Logo
January 18 2019 08:33 AM

इस वजह से नीतीश कुमार ने दिया CM पद से इस्तीफा और टूट गया महागठबंधन

Posted at: Aug 2 , 2017 by Dilersamachar 7121

दिलेर समाचार, लखनऊ। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद आज अपना इस्तीफा दे दिया। इसी के साथ ही 20 महीने से चल रही महागठबंधन (जेडीयू-कांग्रेस-आरजेडी) की सरकार का अंत हो गया। पिछले 15 दिन से बिहार में सियासी खींचतान चल रही थी। लालू यादव के बेटे और बिहार में डिप्टी सीएम तेजस्वी पर करप्शन के आरोपों के चलते विवाद चल रहा था।पर सहमति थी कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए एक साझा उम्मीदवार घोषित किया जाए। महागठबंधन के द्वारा उम्मीदवार घोषित करने से पहले एनडीए ने रामनाथ कोविंद को अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया। ऐसे ही कई और अन्य कारण भी हैं जिस कारण ये गंठबंधन टूट गया। डालते हैं इन पर एक नजर.....घोटाले के आरोपों में फंसा हुआ है लालू का परिवाआरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का परिवार घोटाले के आरोपों में फंसा हुआ है। जिसे लेकर बीजेपी लगातार आरजेडी को घेर रही है। बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील मोदी इसे लेकर महागठबंधन की सरकार पर निशाना साध रहे थे और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। नीतीश कुमार के इस्तीफे के पीछे का ये सबसे बड़ा कारण रहाविपक्ष का लगातार दबावनीतीश कुमार की सरकार पर विपक्षा लगातार दबाव बना रहा था। बीजेपी ने नीतीश कुमार से लालू यादव के दोनों बेटों तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की थी। सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को ‘धमकी’ देते हुए कहा था कि अगर नीतीश कुमार ने दोनों को बर्खास्त नहीं किया तो 28 जुलाई से विधानसभा सत्र नहीं चलने देंगे।

रेलवे टेंडर घोटाले में तेजस्वी का नाम

लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव का नाम जहां रेलवे टेंडर घोटाले में आया है तो वहीं बड़े बेटे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप पर अवैध रूप से पेट्रोल पंप अपने नाम करवाने का आरोप लगा है। कोर्ट के आदेश पर तेजप्रताप के पेट्रोल पंप को सीज़ करने की प्रक्रिया शुरू की गयी थी।

ये भी पढ़े: अगर आपके भी उठता है स्तनों में दर्द तो हल्के में


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED