Logo
December 18 2018 09:36 PM

डॉ भीमराव अंबेडकर की जन्मस्थली महूँ में रेलवे के दिग्गज पहलवान प्रैक्टिस के लिए जुटेंगे

Posted at: Jul 24 , 2018 by Dilersamachar 8334
दिलेर समाचार, नई दिल्ली। भारतीय रेलवे की ओर से चुने गए 50 दिग्गज पहलवानों के लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन इंदौर के सुंदर शहर महूँ, व बदला हुआ अधिकृत नाम डॉ॰ आम्बेडकर नगर में करने जा रहा है । यह प्रशिक्षण शिविर 25 जुलाई से शुरू होगा और 23 अगस्त 2018 तक चलेगा । रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड (आरएसपीबी) की सचिव श्रीमती रेखा यादव ने इस विशेष कैंप की मंजूरी दी है । प्रशिक्षण शिविर में मैनेजर के तौर पर चुने गए महूँ के मुख्य टिकट निरक्षक श्री राकेश दुबे (सचिव, रेलवे खेल संस्थान महूँ) ने इसकी जानकारी देते हुए बताया की यह शिविर 25 जुलाई से शुरू होकर 23 अगस्त 2018 तक चलेगा । शिविर को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है । रेलवे खेल संस्थान महूँ में पहलवानों के अभ्यास की व्यवस्था की गई है जबकि ठहरने, भोजन और कुश्ती अभ्यास के लिए भी रेलवे खेल संस्थान के मैदानों को चुना गया है, पहलवानों की संख्या को ध्यान में रखते हुए बड़े कुश्ती मैदान को तेयार किया गए है, बारिश के मौसम को ध्यान में रखते हुए कुश्ती मैट को इंडोर हाल में लगाया गया हैं ताकि हमारे पहलवानों को ओलंपिक पद्धति की कुश्ती का अभ्यास करने में कोई बाधा न हो |
 
वही रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड (आरएसपीबी) के खेल अधिकारी श्री रविन्द्र कुमार ने जानकारी देते हुए कहा की भारतीय रेलवे अपने दूसरे लाइन के पहलवानों को भी परीक्षण करने का अवसर प्रदान करता है, उन्होंने कहा भले ही यह पहलवानों के लिए ऑफ-सीजन प्रशिक्षण शिविर हो, फिर भी उन्हें इस शिविर का लाभ आगामी होने वाली अखिल भारतीय अंतर रेलवे कुश्ती चैंपियनशिप में मिलेगा ।
 
समय रहते केम्प में नहीं पहुचे तो होना पड़ सकता है निलंबित : रेखा यादव, सचिव रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड (आरएसपीबी)
 
रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने अपने पहलवान खिलाड़ियों को स्पष्ट शब्दों में निर्देश दिया है की सभी पहलवान और प्रशिक्षक शिविर शुरू होने से एक दिन पूर्व 24 जुलाई की शाम तक शिविर में रिपोर्ट करे | एसा नहीं किये जाने पर उन खिलाडियों को शिविर से निष्काषित भी किया जा सकता है | इससे पहले मार्च में आयोजित प्रशिक्षण शिविर में भी रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड ने अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए 6 पहलवानों को केम्प से बहार का रास्ता दिखया था |
 
शिविर में एशिया और राष्ट्रमंडल कुश्ती के पदक विजेता पहलवान भाग ले रहे है | जिसमे राजवीर सिंह राष्ट्रमंडल कुश्ती के स्वर्ण पदक विजेता, फिल्म दंगल में अभिनेता आमिर खान से कुश्ती लड़ने वाले जयदीप पहलवान (पश्चिम मध्य रेलवे), व भारत केसरी हितेश कुमार (उत्तर मध्य रेलवे) सहित नो रेलवे जोन के 50 से भी ज्यादा पहलवान शिविर में हिस्सा ले रहे हैं ।
 
कैंप के लिए प्रशिक्षको का चयन रेलवे बोर्ड द्वारा किया गया, फ्री स्टाइल वर्ग में प्रशिक्षण की जिम्मेदारी अर्जुन अवार्डी श्री कृपाशंकर बिश्नोई (पश्चिम रेलवे) और श्री शोकेंदर तोमर (उत्तर रेलवे) को सौंपी गई है । ग्रीको रोमन वर्ग के प्रशिक्षको में श्री रिचपाल (उत्तर रेलवे) व श्री नरेश कुमार (पश्चिम मध्य रेलवे) को नियुक्त किया गया है | इसके अलावा प्रशिक्षण शिविर में मैनेजर के तौर पर मुख्य जिम्मेदारी महू के मुख्य टिकट निरक्षक श्री राकेश दुबे (सचिव, रेलवे खेल संस्थान महूँ) को सौंपी गई है व टीम फिजियो के रम में अजय भारती होगे |
 
फ्री-स्टाइल में ये पहलवान हुए चयनित
 
रेलवे प्रशिक्षण फ्री-स्टाइल शिविर के लिए आबासाहेब मदाने, बादाम मग्दम, कौतक धापले, रणजीत नरवाडे (मध्य रेलवे), अर्जुन यादव, कृषण कुमार (डीजल लोकोमोटिव वर्क्स), अभिमन्यु यादव, अनिल कुमार (पूर्वी मध्य रेलवे), दिनेश, परवेश, परवीन, राजेन्द्र भाटी (उत्तर मध्य रेलवे), भगत यादव (उत्तर पूर्वी रेलवे), प्रदीप (उत्तर रेलवे), अमित, अनिल राठी, मंदीप, सुरजीत सिंह, तेजबीर (उत्तर पश्चिमी रेलवे), अनूप, जयदीप, संदीप (पश्चिम मध्य रेलवे), बलीराम, संदीप कुमार (पश्चिम रेलवे) का चयन किया गया है । 
ग्रीको रोमन में ये पहलवान ले रहे भाग
 
ग्रीको रोमन में अतुल पाटिल (मध्य रेलवे), राहुल, वीरेंद्र कुमार पटेल (डीजल लोकोमोटिव वर्क्स), अनिल, ब्रिजेश कुमार यादव, गौतम यादव (पूर्वी मध्य रेलवे), हितेश कुमार (उत्तर मध्य रेलवे), रोहित यादव, यशपाल (उत्तर पूर्वी रेलवे), रविन्द्र (उत्तर रेलवे), अतुल, दीपक, संदीप, सुधीर, सुरेन्द्र (उत्तर पश्चिमी रेलवे), दीपक उज्जवल, उपेन्द्र सेन (पश्चिम मध्य रेलवे), कुलदीप तोमर, प्रदीप, राजवीर सिंह (पश्चिम रेलवे) कैंप में भाग ले रहे हैं ।

ये भी पढ़े: भरी बरसात में बस्तर के जंगलों में उतरी फोर्स


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED