Logo
February 23 2019 06:50 AM

इन पांच राज्यों की जनता की जेब पर भारी पड़ने वाली है बिजली की नई दरें

Posted at: Dec 6 , 2018 by Dilersamachar 5910

दिलेर समाचार, नई दिल्ली। गुजरात सरकार ने टाटा, अदाणी और एस्सार समूह के तीन बिजली संयंत्रों से मिलने वाली बिजली के दाम बढ़ाने की अनुमति दे दी है। शनिवार को जारी आदेश के मुताबिक इन कंपनियों को सरकार के साथ किए बिजली खरीद समझौते (पीपीए) में संशोधन करना होगा। इससे पहले महाराष्ट्र राज्य की सरकारी कंपनी महाराष्ट्र राज्य विद्युत वितरण कंपनी (महावितरण) के बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव दिया था और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी के प्रस्ताव पर मुहर लगाई है।

गुजरात में होने वाली बढ़ोतरी पर बिजली नियामक सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (सीईआरसी) से मंजूरी लेनी होगी। यह आदेश आयातित कोयले से चलने वाली बिजली संयंत्रों के लिए बड़ी राहत है। इस घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए टाटा पावर ने सोमवार को बंबई शेयर बाजार को भेजी सूचना में कहा कि कंपनी गुजरात सरकार द्वारा एक उच्चस्तरीय समिति की सिफारिशों को स्वीकार करने के प्रस्ताव का स्वागत करती है।

इससे मुंदड़ा अति वृहद बिजली परियोजना को कुछ राहत मिलेगी, जो गुजरात की करीब 15 प्रतिशत बिजली की जरूरत को उचित मूल्य पर पूरा करती है। गुजरात सरकार ने टाटा, अदाणी और एस्सार समूह के तीन बिजली संयंत्रों से मिलने वाली बिजली के दाम बढ़ाने की अनुमति दी है। तीनों प्लांट 10,000 मेगावाट बिजली पैदा करते हैं।

ये भी पढ़े: ऐसे शुरु हुआ 1992 से पहले का पूरा अयोध्या मामला घटनाक्रम


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED