Logo
May 23 2018 04:48 AM

इसलिए सिर पर चंद्र धारण करते हैं भगवान शंकर

Posted at: Sep 14 , 2017 by Dilersamachar 5127

दिलेर समाचार, कहा जाता हा की समुंद्र मंथन के दौरान निकले विष का पान करने से भगवान शिव के शरीर का तापमान तेज गति से बढ़ने लगा था। ऐसे में शरीर को शीतल रखने के लिए भोलेनाथ ने चंद्रमा को अपने सिर पर धारण किया और अन्य देव उन पर जल की वर्षा करने लगे। इन्द्र देव भी यह चाहते थे कि भगवान शिव के शरीर का तापमान कम हो जाए इसलिए उन्होंने अपने तेज से मूसलाधार बारिश कर दी। इस वजह से सावन के महीने में अत्याधिक बारिश होती है, जिससे भोलेनाथ प्रसन्न होते हैं।

ये भी पढ़े: जानें बुलेट ट्रेन के बारे में कुछ खास और स्पेशल बातें, जिसे जानकर आप भी बेताब हो जाएंगे इसमें सफर करने के लिए


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED