Logo
December 6 2020 04:25 AM

हाथरस कांड से आहत वाल्मीकि समाज के 50 परिवारों ने किया धर्म परिवर्तन

Posted at: Oct 21 , 2020 by Dilersamachar 10069

दिलेर समाचार, गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद में हाथरस कांड (Hathras Case) से आहत वाल्मीकि समाज (Valmiki Community) के 50 परिवारों के 236 लोगों ने बौद्ध धर्म (Buddhism) अपना लिया. मामला गाजियाबाद के करहेड़ा इलाके का है. बीती 14 अक्टूबर को इलाके में रहने वाले वाल्मीकि समाज के 236 लोग एकजुट हुए और उन्होंने बाबा साहब अंबेडकर के परपोते राजरत्न अंबेडकर की मौजूदगी में बौद्ध धर्म की दीक्षा ली.

इन परिवारों का आरोप है कि हाथरस कांड से वे काफी ज्यादा आहत हुए हैं. आरोप यह भी है कि लगातार आर्थिक तंगी से जूझने के बावजूद इनकी कहीं सुनवाई नहीं होती है.  इन लोगों ने आरोप लगाया कि हर जगह इनकी अनदेखी की जाती है. बीती 14 अक्टूबर का वो वीडियो भी सामने आया है, जिसमें राजरत्न आंबेडकर बौद्ध धर्म की दीक्षा इन लोगों को दे रहे हैं. इसी दौरान इन लोगों ने बौद्ध धर्म को अपना लिया. इन्हें भारतीय बौद्ध महासभा की तरफ से एक प्रमाण पत्र भी जारी किया गया है.

समाजसेवा में जुटेंगे

धर्म परिवर्तन करने वाले बीर सिंह ने बताया कि उनके गांव के 50 परिवारों के 236 लोगों ने बौद्ध धर्म अपना लिया है, इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि इसके लिए कोई फीस नहीं ली गई है. बस अब इस धर्म को अपनाने के बाद समाज सेवा जैसे अच्छे काम करने को कहा गया है.

गौरतलब है कि 14 सितंबर को हाथरस के बुलगढ़ी गांव में वाल्मीकि समाज की एक बिटिया के साथ कथित गैंगरेप के बाद उसकी हत्या से ही आक्रोश देखने को मिल रहा है. घटना के बाद से वाल्मीकि समाज ने जगह-जगह प्रदर्शन कर अपना विरोध भी जताया था. फिलहाल इस प्रकरण की जांच सीबीआई कर रही है. चारों आरोपी अलीगढ़ जेल में बंद हैं.

ये भी पढ़े: ‘आत्मनिर्भर भारत’ को लेकर रघुराम राजन ने देश को किया अलर्ट चेता किया सावधान! कहा- दूसरे देशों के सामान पर भारी टैक्स लगाना सही नहीं


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED