Logo
May 18 2024 12:41 PM

हाफिज सईद की मध्यस्थता के बाद बरी हुआ हत्या का आरोपी

Posted at: Nov 6 , 2019 by Dilersamachar 9843

दिलेर समाचार, लाहौर। दुनियाभर के देश पाकिस्तानी आतंकवादी हाफिज सईद को न्याय के कटघरे में खड़ा करने की बात कर रहे हैं। मगर, उस देश में हाफिज सईद का क्या होगा, जहां कोर्ट, चोर और पुलिसकर्मी उसकी बात शब्दशः मानते हैं। इन दिनों एक ऐसा ही मामला सामने आने के बाद चर्चा में बना हुआ है। दरअसल, पाकिस्तानी कोर्ट ने पुलिस कस्टडी में एक चोर की हत्या के आरोपित तीन पुलिसकर्मियों को बरी कर दिया। इस मामले में संयुक्त राष्ट्र से नामित आतंकी हाफिज सईद ने मध्यस्थ की भूमिका निभाई थी और मृतक चोर के परिजनों व पुलिसकर्मियों के बीच समझौता कराया।
अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश न्यायमूर्ति जाहिद हुसैन बख्तियार ने कथित एटीएम ठग सलाहुद्दीन अयूबी की हत्या में शामिल पुलिस अधिकारियों महमूदुल हसन, शफात अली और मतलूब हुसैन को इस हफ्ते बरी कर दिया।26/11 के मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के कहने पर अयूबी के परिजनों ने संदिग्ध पुलिसकर्मियों को माफ कर दिया, जिसके बाद अदालत ने उन्हें बरी कर दिया।
एक एटीएम से पैसे चुराने के आरोप में पुलिस ने अयूबी को गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि वह मानसिक रूप से विक्षिप्त था। पुलिस की प्रताड़ना की वजह से अगस्त में अयूबी की मौत हो गई थी, जिसके बाद पुलिसकर्मियों को लेकर पूरे देश में आक्रोश फैल गया था। सईद ने पुलिस और अयूबी के परिवार के बीच मामले में मध्यस्थ की भूमिका निभाई।
आतंक के वित्तपोषण के आरोप में 17 जुलाई को गिरफ्तार किए जाने के बाद से सईद उच्च सुरक्षा वाले कोट लखपत जेल में है। उसने मृतक व्यक्ति के परिवार से मुलाकात की और उन्हें अल्लाह की खातिर अयूबी की हत्या में शामिल पुलिसकर्मियों को माफ करने के लिए राजी किया। एक आधिकारिक सूत्र ने बताया कि आरोपी पुलिसकर्मियों और उनके अधिकारियों के साथ पीड़ित के परिवार के सदस्यों ने जेल में सईद के साथ कई बार मुलाकात की।

ये भी पढ़े: आज RCEP समिट में कई देशों से मुलाकात करेंगे पीएम मोदी

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED