Logo
May 19 2024 10:46 AM

दिल्ली में फिर बंद होंगे AC! दिल्ली-NCR सहित इन राज्यों में गिरेंगे ओले

Posted at: Apr 12 , 2024 by Dilersamachar 9658

दिलेर समाचार, नई दिल्‍ली. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने गुरुवार को कहा कि लगातार दो पश्चिमी विक्षोभों और अरब सागर से आने वाली उच्च नमी के कारण इस सप्ताह के अंत में उत्तर पश्चिम भारत के पहाड़ों और मैदानी इलाकों में मध्यम बारिश होने की संभावना है. जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर पश्चिम उत्तर प्रदेश में 13 से 15 अप्रैल के बीच गरज के साथ बारिश होने की संभावना है. साथ ही बिजली कड़कने, ओलावृष्टि होने और तेज हवाएं चलने की संभावना है.

आईएमडी ने एक बयान में कहा, ‘‘चक्रवाती परिसंचरण के रूप में एक तीव्र पश्चिमी विक्षोभ मध्य और ऊपरी क्षोभमंडलीय पछुआ पवन के रूप में पश्चिम ईरान पर स्थित है और मध्य क्षोभमंडलीय पछुआ पवनों में एक और चक्रवाती परिसंचरण के रूप में 72 अंश पूर्व देशांतर के साथ 32 अंश उत्तरी अक्षांश तक फैला है. 13-15 अप्रैल के दौरान अरब सागर से उत्तर पश्चिम भारत में उच्च नमी आने की संभावना है.’’

उसने कहा कि इसके परिणामस्वरूप, 13-15 अप्रैल के दौरान उत्तर पश्चिम भारत में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश, तेज हवाएं चलने और ओलावृष्टि होने की संभावना है, जिसकी तीव्रता शनिवार और रविवार को चरम पर हो सकती है. आईएमडी ने तेज हवाओं से फसलों को नुकसान होने और ओले गिरने से खुले में मौजूद लोगों और मवेशियों के चोटिल होने की चेतावनी भी जारी की. उसने कहा कि तेज हवाओं से कच्चे मकानों की दीवारें और झोपड़ियों को नुकसान पहुंच सकता है.

मौसम विभाग ने उत्तर पश्चिम भारत में किसानों को जल्द से जल्द पकी हुई फसलों, फलों और सब्जियों की कटाई करने और कटी हुई उपज को सुरक्षित स्थानों पर रखने या खेतों में कटी हुई उपज के ढेर को तिरपाल से ढंकने का सुझाव दिया. मौसम कार्यालय ने जम्मू कश्मीर के किसानों को जल जमाव से बचने के लिए खेतों से अतिरिक्त पानी निकालने के लिए आवश्यक व्यवस्था करने की सलाह दी.

ये भी पढ़े: कन्नौज से नहीं लड़ेंगे अखिलेश यादव चुनाव, भतीजे तेज प्रताप को मिला टिकट

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED