Logo
September 22 2021 07:42 PM

अखिलेश यादव कम अनुभवी, मैं उनकी जगह होती तो बसपा के प्रत्याशी को जिताने की कोशिश करती : मायावती

Posted at: Mar 25 , 2018 by Dilersamachar 9501

दिलेर समाचार, लखनऊ: राज्यसभा में चुनाव में समाजवादी पार्टी के विधायकों की क्रॉस वोटिंग के चलते बसपा राज्यसभा की 9 वीं नहीं जीत पाई और बसपा ने भी इसका दोष समाजवादी पार्टी और कांग्रेस को नहीं दिया. पार्टी के वरिष्ठ नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि सपा और कांग्रेस से कोई शिकायत नहीं है बीजेपी ने ही एक दलित को जीतने नहीं दिया. लेकिन शनिवार शाम को बसपा सुप्रीमो मायावती ने बातों ही बातों में बहुत कुछ संदेश दे दिया है.

पहले तो उन्होंने कहा कि दोनों ही पार्टियों का गठबंधन अटूट है. बीजेपी दोनों के बीच दूरियां पैदा करना चाहती है. मायावती ने कहा ,'मैं साफ कर देना चाहती हूं कि सपा-बसपा का मेल अटूट है. भाजपा का मकसद सिर्फ सपा-बसपा की दोस्ती को तोड़ना है, कांग्रेस पार्टी के साथ हमारे पुराने संबंध हैं जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी.' 

ये भी पढ़े: घायल शख्स ने एंबुलेंस में की पेशाब तो ड्राइवर ने निकाला, मौत

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED