Logo
April 16 2021 07:31 PM

पशु अधिकार कार्यकर्ताओं ने सभी जानवरों के साथ न्याय एवं समान बर्ताव की मांग के लिए एक दिल दहला देने वाला प्रदर्शन आयोजित किया

Posted at: Mar 1 , 2019 by Dilersamachar 10489
दिलेर समाचार। पशु अधिकार कार्यकर्ताओं द्वारा "जंतर मंतर" पर एक प्रदर्शन आयोजित किया गया ताकि यह उजागर किया जा सके कि पशुओं के प्रति हिंसा पूरी तरह से अनुचित और नैतिक रूप से गलत है।मनुष्यों को इनकी प्रजातियों की परवाह किए बिना सभी भावुक प्राणियों को हिंसा से मुक्त रखना चाइए।दो कार्यकर्ताओं ने अपनी पोशाक पर नकली खून लागाया और चिकन के मुखोटे पहने ताकि यह प्रदर्शित किया जा सके कि जानवरों मैं भी दर्द महसूस करने की क्षमता है, हालांकि मनुष्यों द्वारा इसकी अनदेखी की जाती रही है। "डिफरेंट स्पीशीज़ सेम इविल" नाम का यह जागरूकता अभियान जनता को वीगन जीवन शैली अपनाने के लिए प्रेरित करने के लिए आयोजित किया गया था।वीगन मूल रूप से यह विचार है कि जानवर अपने स्वयं के कारणों से मौजूद हैं और मनुष्यों द्वारा उनका शोषण किसी भी कार्य के लिए नहीं किया जाना चाहिए। एक वीगन कार्यकर्ता पशुओ की इस वस्तु स्थिति को पूरी तरह खारिज करता है। आहार के संदर्भ में इसका मतलब है कि दूध, मांस, अंडा और शहद जैसे पशु उत्पादों का बहिष्कार करना। कार्यकर्ताओं ने दर्शकों को समझाया कि इस दुनिया में किसी का भी जन्म कहा होता है ये किसी के वश से बाहर है और जहाँ पर पशुओं के प्रति क्रूरता करना सामान्य व्यवहार माना जाता है। लेकिन इस दिन और उम्र में यह पूरी तरह से अनावश्यक है। वेगन कार्यकर्ता साजिद खान ने कहा, "हमारी टोली का कोई भी सदस्य जन्म से वीगन नहीं था, पर हमने वीगन अपनाने का विकल्प चुना जब हमने ये महसूस किया कि, हमें अब किसी भी उद्देश्य के लिए जानवरों का उपयोग नहीं करना है।"वीगन आंदोलन दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते सामाजिक न्याय आंदोलन में से एक है। कृपया ध्यान दें: वीगन ओर शाकाहारी मैं कोई समानता नहीं है .

ये भी पढ़े: मारा गया जैश सरगना मसूद अजहर, पाक ने साधी चुप्पी - मीडिया रिपोर्ट्स


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED