Logo
December 10 2022 05:00 AM

रामसेतु लेकर बोली केंद्र सरकार कहा - नहीं पहुंचाएंगे नुकसान

Posted at: Mar 16 , 2018 by Dilersamachar 9730

दिलेर समाचार, नई दिल्ली। सेतुसमुद्रम योजान को लेकर सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने हलफनामा दाखिल किया है। अपने इस हलफनामे में सरकार ने कहा है कि वो प्रोजेक्ट के लिए रामसेतु को नुकसान नहीं पहुंचाएगी और इसके लिए को वैकल्पिक रास्ता ढूंढेगी। इस हलफनामे की जानकारी अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पिंकी आनंद ने कोर्ट में तब दी जब भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मामले की त्वरित सुनवाई के लिए उल्लेख किया।

स्वामी ने यूपीए सरकार के कार्यकाल में सेतुसमुद्रम प्रोजेक्ट रद्द करने की याचिका दायर की थी। इसे लेकर केंद्र ने हलफनामा दाखिल करते हुए कहा कि स्वामी की याचिका खारिज कर दी जाए। सरकार ने कहा कि वो राष्ट्र हित में रामसेतु को प्रभावित किए बिना सेतुतमुद्रम को पूरा करने के पिए प्रतिबद्ध है।

बता दें कि यह वही रामसेतु है जिसे 2004 से 2006 के बीच यूपीए-1 की सरकार तोड़ना चाहती थी। तत्कालीन यूपीए-1 सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर किया था कि इस बात के कोई सुबूत नहीं हैं कि रामसेतु कोई पूज्यनीय स्थल है। बाद में कड़ी आलोचना के बीच तत्कालीन सरकार ने यह हलफनामा वापस ले लिया था।

ये भी पढ़े: मो. शमी के IPL में खेलने पर संशय, सीके खन्नास बोले-ACU की जांच रिपोर्ट के आधार पर होगा फैसला

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED