Logo
April 17 2024 05:13 AM

ये तकनीक अपनाकर आप भी कर सकते है वाई-फाई की स्पीड को ओर तेंज

Posted at: Aug 8 , 2017 by Dilersamachar 9857

दिलेर समाचार, हो सकता है आप अपने इंटरनेट का जितना बिल अदा कर रहे हैं, उसके मुकाबले इंटरनेट स्पीड आपको नहीं मिल रही है। एक कमजोर वायरलेस कनेक्शन सभी के लिए बड़ी परेशानी का सबब बन जाता है। आज हम आपको बता रहे हैं वह तरीकें, जिन्हें अपनाकर आप अपने स्लो वाई-फाई कनेक्शन की स्पीड बढ़ा सकते हैं:

वायलेस नेटवर्क को बढ़ाने के लिए सबसे आसान तरीका है कि अपने राउटर की लोकेशन या पॉजिशन को चेंज करें। राउटर को दीवारों के बीच या किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के ऊपर न रखें। इससे सिग्नल खराब हो जाते हैं। ऐसे में इंटरनेट बार-बार डिस्कनेक्ट होता रहता है। इंटरनेट मॉडम या राउटर को हमेशा 6 फीट ऊंचाई पर रखें। अगर घर की बाहरी दीवार पर राउटर लगाएंगे तो सिग्नल बाहर जाएंगे, इसलिए ऐसा करने से बचें।

-कभी-कभी राउटर को एक जगह से दूसरी जगह करना संभव नहीं हो पाता या फिर स्पीड बढ़ाने के लिए काफी नहीं रहता। ऐसे में एंटिना को रिप्लेस करना परफार्मेंस बढ़ाने के लिए अगला कदम हो सकता है। यदि राउटर एक घर के कोने में हैं या फिर डिवाइस की एक्सेस लोकेशन से दूर है, तब एक हाइ-गेन डायरेक्शनल वाई-फाई एंटीना सिग्नल स्ट्रेंथ बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है। यदि राउटर दीवारों के बहुत ज्यादा नजदीक या रुकावटों के बीच लगाया गया है, तब एक एक्सटर्नल वाई-फाई एंटीना सिग्नल की स्ट्रेंथ को बढ़ाएगा।

- वाई-फाई सिग्नल बूस्ट करने के लिए सबसे बेहतर तरीका है कि इसका सॉफ्टवेयर और डाटा अपडेट कराते रहें। माइक्रोसॉफ्ट द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस की मानें तो हमेशा डिवाइस को अपडेट कराते रहना चाहिए। इसके लिए मॉडम वेंडर या सर्विस प्रोवाइडर की मदद ले सकते हैं। वाई-फाई डिवाइस जैसे राउटर, डिजिटल वॉच, कंप्यूटर, एक्सेसरीज, मोबाइल फोन, डिजी कैम सभी में फर्मवेयर होता है जो डिवाइस को कंट्रोल करता है।

-अपने वाई-फाई सिग्नल को बूस्ट करने के लिए रिपीटर या पुराने राउटर का इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपका घर बड़ा है और मॉडम या राउटर किसी एक फ्लोर पर है तो सिग्नल को बढ़ाने के लिए रिपीटर्स का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आपको डीलिंक या नेटगियर जैसी कंपनियों के रिपीटर मिल जाएंगे, जो मॉडम से कनेक्ट होते ही सिग्नल को बेहतर तरह से नेविगेट करेंगे।

-किसी भी सामान्य यूजर के कंप्यूटर, टैबलेट या फोन में ऑनलाइन बहुत सारे ऐप्स चलते रहते हैं। इस बात पर कोई हैरानी नहीं होनी चाहिए कि ये बैकग्राउंड टास्क स्लोडाउन का एक और कारण बनते हैं। प्राइमरी ऑनलाइन टास्क की स्पीड बढ़ाने के लिए नोटिफिकेशन्स को डिसेबल करें और इस्तेमाल नहीं होने वाली एप्लीकेशन्स को बंद करें

ये भी पढ़े: सावधान! अब कम उम्र के लोग भी महफूज नहीं है हार्टअटैक से

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED