Logo
September 22 2019 12:56 AM

सावधान! इन राशिवालों पर पड़ने वाला है राहू मंगल का भयंकर प्रकोप

Posted at: May 2 , 2019 by Dilersamachar 11120

दिलेर समाचार, राहू एक तमोगुणी ग्रह है, इसकी कोई राशि नही होती है, परन्तु मकर राशि इसका स्वग्रह स्वरूप है उच्च एवं नीच राशियों में मतभेद है कुछ विद्वानों का मत है यह वृष राशि में उच्च एवं वृश्चिक राशि में नीच का होता और कुछ अन्य विद्वानों का मानना है कि यह मिथुन राशि में उच्च एवं मीन राशि में नीच का होता है यह प्रायः अनिष्टकर ही रहता है

मंगल पाप ग्रह तो है ही परन्तु क्रूर ग्रह भी है, यह ग्रह मंडप में सेनापति के पद पर विराजित है, ये तमो गुणी एवं अग्नि तत्व प्रधान है, यह मेष,वृश्चिक राशि का स्वामी है, मकर में उच्च फल प्रदान करता है व कर्क में नीच फल प्रदान करता है, यह प्रायः अग्नि तत्व की उर्जा से प्रभावित रहता है

7 मई को प्रातः 07ः30 मिनट पर राहू एवं मंगल की युति मिथुन राशि में बन रही है अतः संपूर्ण विश्व में भय, हिंसा, लूटपाट, रक्तपात, भूकंप, जहरीली वस्तुऐ, विमान हादसा, अग्निकांड विस्फोट , नशीली वस्तुओ से हानि की संभावनाए प्रबल है ।

भारत के खास तौर पर कुछ पश्चिम क्षैत्र एवं उत्तर पश्चिम क्षैत्र, पकिस्तान, बाग्लादेश , चीन आदि देशो में गोलीबारी, हिंसा,रक्तपात, अग्निकांड , आतंकी हमला, हवाई लड़ाई  एवं विस्फोट की संभावना बनती है ।

कुडली में इस युति के प्रभाव से होने वाली समस्याओं जैसे जलन, एसिडीटी , अग्निभय, एसिड अटेक से ग्रस्त होना , आवेग , वाहन दुघर्टना, अधिक रक्त बहना अवसाद, आदि 

मेष - खिलाडियों को सफलता , मेहनत करने वालो को सफलता , गले की तकलीफ हो सकती है । 

वृषभ - वाणी संयम आवश्यक , धन मिलेगा , दांत से संबंधित तकलीफ होगी 

मिथुन - अति आक्रामकता पर नियंत्रण रखिये , स्वास्थ का विशेष ध्यान रखिये ,उग्रता काम बिगाड़ सकती है । 

कर्क - उग्रता से बचें , व्यय बढेगा , कारोबारी यात्रा होगी , पैरों  में कष्ट

सिंह - लाभ होगा , बड़े भाई का सहयोग , जनसंबंधो से लाभ ।

कन्या - कार्य क्षेत्र में उग्रता से बचें , पीठ की तकलीफ बढ सकती है , प्रशासनिक क्षमता उजागर होगी ।

तुला - धार्मिक यात्रा के योग , घुटने में तकलीफ , कैरियर में तरक्की ।

वृश्चिक - यात्रा के योग बनेंगें , पैरो में तकलीफ हो सकती है । धन मिलेगा।

धनु -जीवन साथी से मतभेद हो सकते है , व्यापार मदा रहेगा , व्यग्रता न रखे।

मकर - पेट का ध्यान रखिये , न्यायालयीन प्रकरण पक्ष में होगा , ननिहाल से मदतभेद होगें।

कुभ - एसिडिटी से बचें , लाभ के प्रचुर अवसर बनेंगे , काम में तरक्की होगी ।

मीन - सीने की तकलीफ बढ सकती है , जमीन जायदाद के काम बनेंगे, अग्नि भय रहेगा ।

 

राहू के किसी एक मंत्र का जाप 

प्रतिदिन कमसे कम एक माला सूर्यास्त के बाद करना 

चाहिये

ऊॅं रां राहवे नमः

ऊॅं भ्रां भ्रीं भ्रौं सः राहवे नमः

ऊॅं शिरोरूपाय विद्महे अमृतेशाय धीमहि तन्नो राहुः प्रचोदयात

 

मंगल के किसी एक मंत्र का जाप 

प्रतिदिन कमसे कम एक माला सूर्यास्त से पहले करना

चाहिये

ऊॅं अं अंगारकाय नमः

ऊॅं क्रां क्रीं क्रौं सः भैमाय नमः

ऊॅं अंगारकाय विद्महे शक्ति हस्ताय धीमहि तन्नो भौमः प्रचोदयात

(ज्योर्तिविद कालज्ञ पं. संजय शर्मा 9424828545, 9893129882)

 

ये भी पढ़े: क्या है सुन्दरता का मापदण्ड?


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED