Logo
May 21 2024 04:20 PM

रसायन हमले की शिकार नृत्यांगना की जा सकती है आंखों की रोशनी

Posted at: Sep 21 , 2018 by Dilersamachar 9810

दिेेलेर समाचार, रसायन हमले की शिकार 21 वर्षीय लोक नृत्यांगना को गुरुवार को यहां एक निजी अस्पताल से इस सलाह के साथ छुट्टी दे दी गयी कि वह आंखों के किसी बड़े अस्पताल में अपना इलाज कराये। हमले में इस लड़की के रेटिना को नुकसान पहुंचने के कारण उसकी आंखों की रोशनी पर खतरा मंडरा रहा है। ।

अरबिंदो हॉस्पिटल के एक अधिकारी ने "पीटीआई-भाषा" को बताया, "हमने रूपाली निरापुरे (21) को छुट्टी दे दी है, क्योंकि रसायन हमले में उसके रेटिना को नुकसान पहुंचने के कारण उसे आंखों के किसी बड़े अस्पताल में इलाज की जरूरत है।" ।इस बीच, नृत्यांगना के पिता बसंत निरापुरे ने अपनी बेटी के इलाज के लिये मदद की गुहार लगायी है।

उन्होंने कहा, "मुझे अपनी बेटी के इलाज के लिए आर्थिक मदद की जरूरत है। मैं एक दवा कम्पनी के संयंत्र में काम करता था। लेकिन कुछ महीने पहले संयंत्र बंद कर दिये जाने के कारण मैं इन दिनों बेरोजगार हूं।" ।

 

रूपाली के चेहरे पर रसायन फेंकने के आरोप में उसके कथित प्रेमी महेंद्र सेन उर्फ मोनू (23) को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। बाणगंगा क्षेत्र में मंगलवार को यह हमला कथित तौर पर इसलिये किया गया, क्योंकि आरोपी नृत्यांगना के उसकी प्रस्तुतियों के लिये शहर से अक्सर बाहर रहने और अन्य पुरुषों से उसके मेल-जोल से नाराज था। युवती एक स्थानीय लोक नृत्य समूह से जुड़ी है और प्रस्तुतियों के दौरान अक्सर भगवान कृष्ण का किरदार निभाती है। यह समूह कुछ राष्ट्रीय टीवी चैनलों पर भी अपनी प्रस्तुतियां दे चुका है।

ये भी पढ़े: जीएसटी के तहत पहली अक्टूबर से एक प्रतिशत टीसीएस काटेंगी ई कॉमर्स कंपनियां

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED