Logo
August 24 2019 03:48 AM

MP में 60 लाख फर्जी मतदाता होने का झूठा दावा करने के लिए कांग्रेस माफी मांगे: प्रभात झा

Posted at: Jun 10 , 2018 by Dilersamachar 5352

दिलेर समाचार,भोपाल: भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि मध्य प्रदेश में 60 लाख फर्जी मतदाता होने का झूठा दावा करने के लिए कांग्रेस को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए. झा ने यहां संवाददाताओं को बताया, ‘‘मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने दिल्ली जाकर चुनाव आयोग में शिकायत की थी कि मध्यप्रदेश में 60 लाख फर्जी मतदाता हैं. इस शिकायत को चुनाव आयोग ने जांच के बाद गलत बताया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस ने झूठी शिकायत कर पूरे देश में मध्यप्रदेश की जनता का अपमान किया है. इसलिए कांग्रेस को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए.’’ झा ने बताया कि मध्यप्रदेश की जनता को बदनाम करने का बदला मतदाता इस नवंबर में प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में लेंगे और भाजपा को लगातार चौथी बार भारी बहुमत से प्रदेश की सत्ता में लाएंगे. 
 

उन्होंने कहा, ‘‘सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए कांग्रेस यह करती है. जनता में भ्रांति पैदा करने एवं उन्हें गुमराह करने के लिए कांग्रेस यह करती है. यदि आप सच्चे हो, तो तथ्य लाइये. प्रस्तुत कीजिए.’’ गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश में मतदाता सूचियों में भारी पैमाने पर गड़बड़ी होने की कांग्रेस की शिकायत को जांच के बाद गलत बताया है. आयोग की ओर से कल देर शाम कांग्रेस को भेजी गयी जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि शिकायत के आधार पर गठित जांच दलों ने राज्य के चार विधानसभा क्षेत्रों में मतदाता सूचियों का निरीक्षण किया, जिनमें गड़बड़ी जैसी कोई कोई बात नहीं मिली है. आयोग ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ द्वारा गत तीन जून को की गयी शिकायत में वर्णित गड़बड़ी वाले विधानसभा क्षेत्रों नरेला, होशंगाबाद, भोजपुर और सिवनी मालवा में मतदाता सूचियों की विस्तृत जांच करायी.  आयोग ने विस्तृत जांच के आधार पर निष्कर्ष के तौर पर कहा कि इन चारों विधानसभा क्षेत्रों में एक ही मतदाता का नाम मतदाता सूची में कई बार दर्ज होने के मामलों की बहुतायत होने की शिकायत सही नहीं है. जबकि एक ही तस्वीर वाले अनेक मतदाता पाये जाने की शिकायत को आयोग ने यह बताते हुये सही नहीं पाया कि यह एक ही मतदाता का सूची में बार बार उल्लेख का मामला नहीं है. बल्कि यह महज एक ही फोटो के अनेक बार उपयोग का मामला है जिसे ठीक करने के लिये कह दिया गया है.

ये भी पढ़े: नोएडा में एक और 'यादव सिंह' : सैलरी 65 हजार महीना और संपत्ति 200 करोड़ से अधिक


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED