Logo
August 24 2019 04:47 AM

दंगल के कोच कृपाशंकर बिश्नोई "स्पेनिश ग्रैंड प्रिक्स" अंतराष्ट्रीय कुश्ती टूर्नामेंट में निर्णायक की भूमि निभाएंगे

Posted at: Jul 2 , 2019 by Dilersamachar 6919

दिलेर समाचार, नई दिल्ली : भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) ने अर्जुन अवार्डी दंगल कोच कृपाशंकर बिश्नोई को स्पेल में आयोजित रेफरी कोर्स - स्तर 2 के लिए चुन लिया है, साथ ही उन्हें 4 से 7 जुलाई तक स्पेन की राजधानी मैड्रिड में आयोजित "स्पेनिश ग्रैंड प्रिक्स" अंतराष्ट्रीय कुश्ती टूर्नामेंट के लिए रेफरी भी नियुक्त किया है | इससे पहले कृपाशंकर ने टाइप वन, व केटेगरी थर्ड का कोर्स वर्ष 2016 जर्मनी के डोर्टमंड शहर में आयोजित परीक्षा में उत्तीर्ण किया था । कृपाशंकर स्पेन में अपने रेफरी स्तर को बढ़ाने व अपग्रेड होने के लिए परीक्षा देगे । स्पेन में आयोजित परीक्षा के लिए भारत से एकमात्र रेफरी कृपाशंकर बिश्नोई का नाम भारतीय कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग को आगे भेजा है ।

इस अवसर पर कृपाशंकर बिश्नोई ने कहा की संयुक्त विश्व कुश्ती ने हमारे रेफरी के लिए एक प्रशिक्षण और शिक्षा प्रणाली विकसित की ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि रेफरी मानकों में सुधार जारी रहे और खेल के नियम लागू होते हैं । नए सुधारित रेफरी एजुकेशन पाथवे कुश्ती रेफरी के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने स्तर को आगे बढ़ाने के लिए एक स्पष्ट कैरियर पथ प्रदान करता है। व्यावहारिक कौशल बनाने और रेफरी प्रदर्शन में सुधार करने पर केंद्रित, यह नई प्रणाली अंतरराष्ट्रीय शिक्षा मानकों के अनुपालन में कुश्ती रेफरी शिक्षा की अनुमति देती है और दुनिया भर में गुणवत्ता स्थिरता सुनिश्चित करती है। अंतरराष्ट्रीय रेफरी प्रमाणन पाठ्यक्रम के लिए संयुक्त विश्व कुश्ती ने योग्यता-आधारित सैद्धांतिक परीक्षाएं और व्यावहारिक मूल्यांकन पाठ्यक्रम धारण में भाग लेने वाले प्रत्येक रेफरी का आकलन करने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रेफरी के लिए वैध यूडब्ल्यूडब्ल्यू लाइसेंस प्राप्त करने के लिए लागू होते हैं । इसके लिए विशिष्ट प्रशिक्षण और अनुभव आवश्यकताओं को पूरा किया जाना बहुत जरुरी है । इस कोर्स हेतु उनका चयन भारतीय कुश्ती संघ द्वारा किया गया है । कृपाशंकर अंतर्राष्ट्रीय रेफरी कोर्स उत्तीर्ण करने वाले मध्यप्रदेश के पहले व एकमात्र रेफरी हैं | कृपाशंकर ने दंगल फिल्म के लिए आमिर खान और अन्य कलाकारों को कुश्ती के गुर सिखाए थे ।

टूर्नामेंट में दुनिया के शीर्ष पहलवान भाग लेंगे । भारतीय कुश्ती संघ सिर्फ अपनी 12 सदस्य महिला कुश्ती टीम को ही टूर्नामेंट में उतारेगी । भारत की स्टार महिला पहलवान विनेश  कुमारी भी  भारतीय कुश्ती टीम का हिस्सा है । पिछले वर्ष"स्पेनिश ग्रैंड प्रिक्स 2018" अंतराष्ट्रीय कुश्ती टूर्नामेंट में दुनिया के शीर्ष पहलवानों को हरा कर विनेश ने जीता स्वर्ण पदक जीता था | यह स्वर्ण पदक विनेश ने महिलाओं के फ्रीस्टाइल 50 किलो वर्ग में  जीता था । इस बार विनेश 53 किलो वजन वर्ग में भाग लेगी । भारतीय महिला टीम  इस प्रकार है सीमा 50 किलोग्राम, विदेश 53 किलोग्राम पूजा ढांडा 57 किलोग्राम, मंजू कुमारी 59 किलोग्राम, साक्षी मलिक 62 किलोग्राम, दिव्या काकरान 68 किलोग्राम, किरण बिश्नोई 76 किलोग्राम  व कोच कुलदीप मलिक, रणधीर सिंह के साथ फीजियो धीरेंद्र प्रताप सिंह व रेफरी कृपाशंकर बिश्नोई  शामिल है ।

6 वर्ष के लिए कुश्ती संघ ने किया था कृपाशंकर को निलंबित । 

सूत्रों के मुताबित कृपाशंकर ने 12 सितंबर 2017 को अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि कुश्ती की अंतरराष्ट्रीय संघ संयुक्त विश्व कुश्ती (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) ने खेल के नियमों में कई महत्वपूर्ण बदलाव किए हैं, लेकिन भारतीय कुश्ती संघ ने इस सिलसिले में आधे-अधूरे और अधकचरे नियमों को लागू किया है । इतना ही नहीं कृपाशंकर ने विवादास्पद फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि क्या आपको पता है कि गुजरात में कच्छ के रण में एक अनोखा प्राणी पाया जाता है, जो न गधा है, न घोड़ा है, दोनों के बीच का खच्चर है । जी हां, भारतीय कुश्ती संघ ने भी कुछ इसी तरह खच्चर जैसा फैसला कुश्ती के नियमों को लेकर किया है, 13 सितंबर वर्ष 2017 को सोशल मीडिया पर खच्चर से भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) की विवादास्पद तुलना करने के बाद कोच कृपाशंकर बिश्नोई को इस संगठन ने 6 वर्ष के लिए निलंबित कर दिया था । इसके बाद इस फेसले को कृपाशंकर ने डब्ल्यूएफआई की अनुशासन समिति से अपील करते हुए अपने ऊपर लगे निलंबन को वापस लेने की गुहार लगाई थी जिस पर महासंघ ने सुनवाई करते हुए 11 महीने व कुल 333 दिन बाद उन पर से निलंबन वापस ले लिया और उन्हें दोबारा ऐसा ना करने की चेतावनी देकर छोड़ दिया। 

कृपाशंकर की इस उपलब्धि पर रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) के प्रेमचंद लोहचब और भारतीय कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद बृजभूषण शरण सिंह, मध्य प्रदेश एमेच्योर कुश्ती संघ के अध्यक्ष डॉ मोहन यादव, एन आई एस कोच वेद प्रकाश जावला, सहदेव सिंह बालियान, कृष्ण पहलवान, वीरेंद्र निचित, भारत केसरी पहलवान जगदीश कालीरमण, भारतीय कुश्ती संघ के सहायक सचिव विनोद तोमर, मेहरबान नेगी, जेपी सिंह आदि ने बधाई  दी।

ये भी पढ़े: मंदिर में तोड़फोड़: अमित शाह ने लिया दिल्ली पुलिस को आड़े हाथ, 6 और लोग हुए गिरफ्तार


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED