Logo
December 6 2022 03:36 AM

पंजाब सरकार के अधूरे वादे से नाराज हुईं मूक-बधिर शतरंज खिलाड़ी मलिका हांडा, ऐसे निकाला गुस्सा

Posted at: Jan 3 , 2022 by Dilersamachar 9242

दिलेर समाचार, जालंधर. पंजाब (Punjab) के जालंधर की जानी-मानी मूक-बधिर शतरंज खिलाड़ी मलिका हांडा (Malika Handa) इन दिनों बहुत गुस्से में हैं. उनकी नाराजगी पंजाब सरकार से है. राज्य सरकार ने उन्हें सरकारी नौकरी और नकद इनाम देने का वादा किया था. लेकिन पूरा नहीं किया. एएनआई के मुताबिक कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में पदक जीत चुकीं मलिका हांडा ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है. इसमें उन्होंने पोस्ट लिखी है, ‘मैं बहुत दुखी हूं. मैं 31 दिसंबर को पंजाब (Punjab) के खेल मंत्री से मिली थी. उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार आपको नौकरी नहीं दे सकती. नकद इनाम भी नहीं दिया जा सकता. क्योंकि मूक-बधिर खेलों के लिए सरकार के पास कोई नीति ही नहीं है.’

मलिका हांडा ने आगे लिखा है, ‘पूर्व खेल मंत्री ने मुझे नकद इनाम देने की घोषणा की थी. मेरे पास वह आमंत्रण पत्र भी है, जिसमें मुझे आमंत्रित किया गया था. लेकिन कोविड के कारण मामला स्थगित हो गया. ये चीजें मैंने जब मौजूदा खेल मंत्री परगट सिंह को बताईं तो उन्होंने साफ कह दिया कि यह पूर्व-मंत्री का वादा था. मैंने ऐसी कोई घोषणा नहीं की. सरकार कुछ नहीं कर सकती.’

इसके बाद मलिका ने सवाल किया, ‘मैं सिर्फ यह पूछ रही हूं कि जब पूरी नहीं करनी थी, तो घोषणा की ही क्यूं गई? कांग्रेस की सरकार में मेरा पांच साल का वक्त बर्बाद हो गया. उन्होंने मुझे बेवकूफ बनाया. उन्हें मूक-बधिक खिलाड़ियों की कोई फिक्र ही नहीं है. जिला कांग्रेस ने भी मुझसे कहा कि पांच साल पहले किए गए वादों का अब कोई मतलब नहीं है. पंजाब सरकार ऐसा क्यों कर रही है? आखिर क्यों?’

मलिका की पोस्ट पर ट्विटर यूजर्स भी तीखे कमेंट कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा है,  ‘दिल तोड़ देने वाला मामला., ऐसी सड़ी-गली व्यवस्था पर शर्म आती है.’ मलिका के वीडियो को अब तक 2.13 लाख बार देखा जा चुका है. पंजाब सरकार की ओर से अब तक इस पर कोई अधिकृत प्रतिक्रिया नहीं आई है.

ये भी पढ़े: लगातार बढ़ रहे हैं दिल्ली में कोरोना के मरीज, जानें 'रेड अलर्ट' लगा तो क्या होगा

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED