Logo
December 10 2022 03:21 AM

क्या आप जानते है की शादी की अंगूठी बाई हाथ की तीसरी उंगली में क्यों पहनते हैं

Posted at: Dec 7 , 2021 by Dilersamachar 9276

शादी एक बहुत ही पवित्र बंधन माना जाता है। जो कि हर धर्म में अलग-अलग रिति रिवाज के साथ रस्में की जाती है। इन्हीं में से एक रस्म है सगाई की। जी हां इंगेजमेंट जो कि हर धर्म में अधिकतर एक जैसी होती है। अक्सर आपने देखा होगा कि सगाई की अंगूठी बाएं हाथ की चौथी अंगूली में ही पहनी जाती है। ऐसे में हमारे दिमाग में आता है कि आखिर इसी अंगूली में ही क्यों पहनती है। लोग सोचते है कि यह एक ट्रेंड है। लेकिन आपको बता दें कि इसके पीछे कई वजह और लॉजिक छिपे हुए है। जानें इनके बारें में....

हम आपके एक सिपंल टेस्ट बता रहे है। जिसे करके आप आसानी से जान सकते है कि यह अंगूली आपके लिए कितनी जरुरी है। जो कि जीवसाथी को शो करती है। सबसे पहले अपने दोनों हाथों की हथेली को खोलकर एक-दूसरे के सामने लाएं। इसके बाद अंगूठे से अंगूठे, इंडेक्स अंगूली से इंडेक्स अंगूली और इसी तरह अन्य अंगूली को जोड़ लें।

वहीं अंगूठो को आप आपस में हटाकर जोड़ सकते है। जो कि माता पिता का माना जाता है। क्योंकि आपके पेरेंट्स आपके साथ जीवनभर खुशियां पाने के लिए रहते है। अब आप पहली अंगूली ओपन करें जो कि भाई-बहन को दर्शाती है। वह आसानी से हिल सकती है। जिससे पता चलता है कि भाई बहन पहले और बाद में आते है।

इसके बाद अपनी छोटी अंगूली को खोले और जोड़े। जो कि आपके बच्चों के लिए है। जो कि आपके सपनों के पीछे भागते है। सगाई की अंगूठी पहनने वाली अंगुली अपने जगह से हिलती नहीं है चाहें आप जितना कोशिश कर लें। यह पति-पत्नी को दर्शाता है। जो कि हमेशा एक साथ रहते है बहूत ही मजबूती के साथ।

शादी एक बहुत ही पवित्र बंधन माना जाता है। जो कि हर धर्म में अलग-अलग रिति रिवाज के साथ रस्में की जाती है। इन्हीं में से एक रस्म है सगाई की। जी हां इंगेजमेंट जो कि हर धर्म में अधिकतर एक जैसी होती है। अक्सर आपने देखा होगा कि सगाई की अंगूठी बाएं हाथ की चौथी अंगूली में ही पहनी जाती है। ऐसे में हमारे दिमाग में आता है कि आखिर इसी अंगूली में ही क्यों पहनती है। लोग सोचते है कि यह एक ट्रेंड है। लेकिन आपको बता दें कि इसके पीछे कई वजह और लॉजिक छिपे हुए है। जानें इनके बारें में....

हम आपके एक सिपंल टेस्ट बता रहे है। जिसे करके आप आसानी से जान सकते है कि यह अंगूली आपके लिए कितनी जरुरी है। जो कि जीवसाथी को शो करती है। सबसे पहले अपने दोनों हाथों की हथेली को खोलकर एक-दूसरे के सामने लाएं। इसके बाद अंगूठे से अंगूठे, इंडेक्स अंगूली से इंडेक्स अंगूली और इसी तरह अन्य अंगूली को जोड़ लें।

वहीं अंगूठो को आप आपस में हटाकर जोड़ सकते है। जो कि माता पिता का माना जाता है। क्योंकि आपके पेरेंट्स आपके साथ जीवनभर खुशियां पाने के लिए रहते है। अब आप पहली अंगूली ओपन करें जो कि भाई-बहन को दर्शाती है। वह आसानी से हिल सकती है। जिससे पता चलता है कि भाई बहन पहले और बाद में आते है।

इसके बाद अपनी छोटी अंगूली को खोले और जोड़े। जो कि आपके बच्चों के लिए है। जो कि आपके सपनों के पीछे भागते है। सगाई की अंगूठी पहनने वाली अंगुली अपने जगह से हिलती नहीं है चाहें आप जितना कोशिश कर लें। यह पति-पत्नी को दर्शाता है। जो कि हमेशा एक साथ रहते है बहूत ही मजबूती के साथ।

ये भी पढ़े: सर्दियों में टूटते बालों से पाए छुटकारा अपनाएं ये तरीके

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED