Logo
May 9 2021 09:55 AM

इन वजहों से उड़ जाती है लोगों की नींद, आसानी से और अच्छी नींद लेने के ये शानदार उपाए

Posted at: Mar 19 , 2021 by Dilersamachar 9432

दिलेर समाचार, नई दिल्ली: स्मार्टफोन, लैपटॉप और गैजेट्स की वजह से अगर किसी चीज में सबसे ज्यादा कमी आयी है तो वो है लोगों की नींद. रात में देर से सोना और सुबह काम की वजह से जल्दी उठना. इस कारण अधिकतर लोग 7-8 घंटे की नींद भी नहीं ले पा रहे हैं. लोगों को अच्छी नींद का महत्व समझाने और नींद कितनी जरूरी है इस बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए ही हर साल 19 मार्च को वर्ल्ड स्लीप डे मनाया जाता है. किन कारणों से नींद आने में दिक्कत हो सकती है और अच्छी नींद के लिए आप किन उपायों को आजमा सकते हैं, यहां जानें.

जिस तरह हर व्यक्ति की पानी की जरूरत अलग-अलग होती है लेकिन औसतन 5-6 गिलास पानी पीना सभी के लिए जरूरी होता है. ठीक उसी तरह किस व्यक्ति के लिए कितनी नींद जरूरी है यह उसकी उम्र, वजन, सेहत की स्थिति और एक्टिविटी पर निर्भर करता है. अमेरिका के Sleep Foundation की मानें तो वयस्कों के लिए 7-9 घंटे की नींद, 65 से अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए 7-8 घंटे की नींद, 6 से 13 साल के बच्चों के लिए 9-11 घंटे की नींद और 2 से 5 साल के बच्चों के लिए 10-12 घंटे की नींग और नवजात शिशु के लिए 15 से 17 घंटे की नींद जरूरी होती है.

नींद न आना (अनिद्रा) एक गंभीर समस्या है

ज्यादातर लोगों को लगता है कि नींद न आना एक सामान्य समस्या है. लेकिन अनिद्रा जिसे मेडिकल टर्म में insomnia कहते हैं एक गंभीर बीमारी है जिसमें व्यक्ति को नींद आने और गहरी नींद में सोने में दिक्कत होती है. इन्सॉमनिया की समस्या कुछ हफ्तों से लेकर कई महीनों तक के लिए हो सकती है. पहले ये समस्या बुजुर्गों में ही देखी जाती थी लेकिन आजकल युवा भी इससे परेशान रहते हैं. अपनी लाइफस्टाइल में जरूरी बदलाव करके इसे दूर किया जा सकता है.

 

 

इन वजहों से उड़ जाती है नींद

- अगर आप अपने नाइट सूट को सही तरीके से साफ नहीं करते हैं तो उनमें मौजूद कीटाणुओं की वजह से आपकी नींद प्रभावित हो सकती है. गंदे नाइटवेयर की वजह से स्किन में खुजली हो सकती है और सांस लेने में भी दिक्कत हो सकती है.

 - कई बार अगर पार्टनर खर्राटे ले रहा हो या स्मार्टफोन पर बिजी हो तो इन कारणों से भी आपकी नींद खुल जाती है और फिर दोबारा नींद आने में दिक्कत होती है. तो नींद न आने का एक कारण आपका स्लीपिंग पार्टनर भी हो सकता है.

 - अगर आप एक्सरसाइज न करें तो इस वजह से भी नींद पर असर पड़ सकता है और अच्छी और गहरी नींद नहीं आती.

 - आप क्या खाते हैं इसका भी आपकी नींद पर अच्छा या बुरा असर पड़ सकता है.

 

 

इन बीमारियों की वजह से भी नहीं आती नींद

स्लीप ऐप्निया, डिप्रेशन, रेस्टलेस लेग सिंड्रोम, पार्किन्सन्स, अल्जाइमर्स आदि- ये कुछ ऐसी बीमारियां हैं जिनकी वजह से अनिद्रा की समस्या हो सकती है.

 इन उपायों से आएगी अच्छी नींद

-अच्छी नींद चाहिए तो रोजाना वर्कआउट करें लेकिन सोने से ठीक पहले नहीं.

 -सोने से कम से कम 8 घंटे पहले कैफीन का सेवन बंद कर दें.

 -सोने से कम से कम 1 घंटा पहले सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को बंद कर दें.

 -बहुत लेट से डिनर न करें. सोने से कम से कम 2 घंटे पहले रात का खाना खत्म कर लें.

 -रूम में नाइट लैंप जलाने की बजाए जहां तक संभव हो कमरे को पूरी तरह से अंधेरा करके सोएं.

 (नोट: किसी भी उपाय को करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करें. Diler samachar  इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

 

 

ये भी पढ़े: Assam Assembly Election 2021: कांग्रेस जीती तो असम में लागू नहीं होगा CAA- राहुल गांधी


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED