Logo
April 17 2024 04:51 AM

पंजाब में धरना प्रदर्शन के लिए फिर जुटे किसान, सड़कें जाम

Posted at: Nov 17 , 2022 by Dilersamachar 9265

दिलेर समाचार, चंडीगढ़. पंजाब के किसानों ने अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर से सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. किसानों ने करीब पांच जिलों में पक्के मोर्चे लगाने शुरू कर दिए हैं और कई जगहों पर हाईवे को जाम कर दिया है. इससे आम जनता को एक बार फिर से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि, बीते बुधवार को किसानों ने कहा था कि उनका यह प्रदर्शन एक दिन के लिए सांकेतिक था, लेकिन आज गुरुवार को उन्होंने धरने प्रदर्शन को जारी रखने का ऐलान कर दिया है.

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और भारती किसान यूनियन (एकता-सिद्धूपुर) के बैनर तले सैकड़ों किसानों ने अपनी लंबित मांगों को पूरा नहीं करने पर बठिंडा और मनसा जिलों में सड़कों को जाम कर दिया है. कुछ किसानों ने अमृतसर-पठानकोट हाईवे को भी जाम कर दिया है. पटियाला में किसानों ने धरेरी जट्टान टोल प्लाजा पर बीते दिन विरोध प्रदर्शन किया था. लेकिन आज गांव से और किसानों को धरने में शामिल होने के लिए बुला लिया है. इस दौरान विभिन्न जिलों में सड़क जाम होने से राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. फरीदकोट में किसानों के धरने और प्रदर्शन की सूचना है.

बीकेयू (एकता-सिद्धूपुर) के स्वर्ण सिंह ने कहा है कि सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है. इसमें पराली न जलाने का मुआवजा और किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों को रद्द करना शामिल है. उधर बीकेयू (एकता) के प्रमुख गुरचरण सिंह ने कहा है कि आप सरकार की कथनी और करनी में बहुत अंतर है. राज्य सरकार ने हमारी कुछ मांगों को मानने पर सहमति जताई थी, लेकिन अभी भी आधिकारिक अधिसूचना का इंतजार है. किसानों को लगता है कि आप सरकार द्वारा उनके साथ धोखा किया जा रहा है और उनकी उपेक्षा की जा रही है. अगर हमारी मांगें पूरी नहीं हुई तो हम अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू करने को मजबूर होंगे.

ये भी पढ़े: सावरकर पर बयान से राहुल गांधी की बढ़ी मुसीबत

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED