Logo
October 26 2020 12:56 AM

संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करेंगे किसान, इन 3 अध्यादेशों के खिलाफ करेंगे महासंग्राम

Posted at: Sep 16 , 2020 by Dilersamachar 9376

दिलेर समाचार, नई दिल्ली. संसद के मॉनसून सत्र (Parliament Monsoon Session) का बुधवार को तीसरा दिन है. किसानों से संबंधित तीन अध्यादेशों (Ordinance) को लेकर कई किसान संगठन आज सड़क से लेकर संसद तक महासंग्राम के मूड में हैं. संसद के बाहर भारतीय किसान यूनियन से बड़ी संख्या में जुड़े किसान धरना प्रदर्शन करेंगे. इस विरोध प्रदर्शन में हरियाणा, तेलंगाना, महाराष्ट्र, पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान से जुड़े किसान शामिल होंगे.

भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह का कहना है कि हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के किसान कृषि क्षेत्र से जुड़े 3 अध्यादेशों के विरोध में बुधवार को संसद के बाहर धरना प्रदर्शन करेंगे. इसके अलावा पंजाब में बीजेपी की पुरानी सहयोगी शिरोमणि अकाली दल अध्यादेश पर खुश नहीं है. सूत्रों के मुताबिक, अकाली दल इस मसले पर बुधवार को विरोध में वोटिंग कर सकता है.

इस बीच प्याज निर्यात पर लगी रोक के खिलाफ महाराष्ट्र के किसान आज प्रदर्शन करेंगे. पोर्ट पर कुल 712 कंटेनर प्याज को लेकर असमंजस बरकरार है. इन कंटेनर 1 किलो से लेकर 50 किलो की पैकिंग में प्याज है. अब एक्सपोर्टर चिंतित हैं कि प्याज एक्स्पोर्ट पर बैन लगने से पहले शिपमेंट किए गए प्याज का क्या होगा. एक कंटेनर का मूल्य 8-10 लाख है. अगर कंटेनर नहीं गए तो यह नुकसान एक्सपोर्टर को होगा. कांग्रेस भी आज प्याज निर्यात पर बैन के खिलाफ प्रदर्शन करेगी.

आम आदमी पार्टी (आप) ने कहा है कि वह किसानों से संबंधित तीन विधेयकों का संसद में विरोध करेगी. पार्टी ने दावा किया कि ये तीनों विधेयक कृषि क्षेत्र के निजीकरण की दिशा में एक कदम है. आप के सांसद भगवंत मान ने कहा कि ये विधेयक वास्तविकता में किसानों की जिंदगी तबाह कर देंगे. ये कृषि क्षेत्र के निजीकरण की दिशा में एक कदम है.

ये भी पढ़े: श्रीनगर के बटमालू में मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, 1 महिला की मौत


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED