Logo
September 28 2020 12:27 PM

फैज़ल सिद्दीकी का TikTok अकाउंट बैन, बनाया था ‘एसिड अटैक’ से जुड़ा वीडियो

Posted at: May 20 , 2020 by Dilersamachar 9629

दिलेर समाचार, मुंबई- टिकटॉक (TikTok ) की खुमारी लोगों को ऐसी चढ़ी हैं कि हर कोई स्टार बनना चाहता है, लेकिन स्टार बनने की चाह में विवादित वीडियो बनाकर भी अपलोड कर रहे हैं. कुछ ऐसा ही करना TikTok के स्‍टार फैज़ल सिद्दीकी (Faizal Siddiqui) को करना बहुत महंगा पड़ा अपने इस नए वीडियो में वह एसिड अटैक (Acid Attack) करने की एक्टिंग करते नजर आए, जिसके बाद फैज़ल के टिकटॉक अकाउंट को बैन ((Faizal Siddiqui TikTok Ban) कर दिया गया है. उन पर आरोप है कि  वीडियो द्वारा उन्होंने कई सामुदायिक दिशा निर्देशों का उल्लंघन किया है.

फैज़ल सिद्दीकी (Faizal Siddiqui) के टिकटॉक पर 13.4 मिलियन फॉलोअर हैं. एसिड अटैक (Acid Attack)वीडियो अपलोड होने के बाद लोगों ने उनका विरोध करना शुरू किया. दरअसल, उन्होंने जो वीडियो पोस्ट किया था ,उसमें वो एक लड़की के चेहरे पर एसिड फेंकते हुए देखा जा सकता था. बाद में उसी क्लिप में वह लड़की विचित्र मेकअप में नजर आती है. इसके बाद वीडियो में एक लाइन आती है, जिसमें फैजल कहते नजर आते हैं कि तुम्हें उसने छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था.

टिकटॉक के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमने वीडियो को हटा दिया है, साथ ही खाते को निलंबित कर दिया है. उन्होंने बताया कि अब वो इस मामले में कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ काम कर रहे हैं.

टिकटॉक प्रवक्ता ने आगे कहा कि लोगों को टिकटॉक पर सुरक्षित रखना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है और हम अपनी र्तों और सामुदायिक दिशानिर्देशों में यह स्पष्ट करते हैं कि हमारे मंच पर क्या स्वीकार्य नहीं है. हमारी पॉलिसी के मुताबिक, हम ऐसी सामग्री की अनुमति नहीं देते हैं जो दूसरों की सुरक्षा को खतरे में डालती हैं, शारीरिक नुकसान को बढ़ावा देती हैं या महिलाओं के खिलाफ हिंसा को बढ़ावा देती हैं.

फैज़ल स‍िद्दीकी के खिलाफ कड़ा एक्‍शन लेने के लिए महिला आयोग ने महाराष्‍ट्र के डीसीपी सुबोध कुमार जैसवाल को टैग करते हुए ट्व‍िटर पर इस वीडियो की शिकायत की थी. अपने इस ट्वीट में राष्‍ट्रीय महिला आयोग ने ल‍िखित शिकायत भी दी थी, जिसमें फैज़ल पर आईटी एक्‍ट, 2000 के तहत कार्रवाई करने की मांग भी की गई. राष्‍ट्रीय महिला आयोग ने टिक-टॉक को भी एक लेटर लिखकर फैज़ल का अकाउंट हटाने की मांग की थी.

ये भी पढ़े: चीन के मुकाबले इंडियन वायरस खतरनाक- नेपाल के PM


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED