Logo
September 25 2021 03:45 AM

कोरोना का भ्रम फैलाकर किसान आंदोलन तोड़ना चाहती है सरकार- राकेश टिकैत

Posted at: Apr 21 , 2021 by Dilersamachar 13058

दिलेर समाचार, सोनीपत. सोनीपत (Sonipat) के सिंघु बॉर्डर ( Singhu Border) पर लगातार किसानों का आंदोलन जारी है. वहीं अब किसान नेता राकेश टिकैत का बड़ा बायान आया है. उन्होंने कहा है कि सरकार कोरोना का डर दिखाकर आंदोलन को तोड़ना चाहती है. दरअसल सिंघू बॉर्डर पर एक होटल ने किसानों के लिए फ्री में पानी की सेवा शुरू की है. इसी दौरान पत्रकारों को टिकैत ने अपनी प्रतिक्रिया दी. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए नेताओं ने कहा कि सरकार जानबूझ कर कोरोना का भ्रम फैला रही है. वह हमारे आंदोलन को तोड़ना चाहती है. वहीं किसान नेता मनजीत राय ने तो दो टूक में कह दिया कि प्रशासन से हमारी बातचीत हो चुकी है. कोई भी किसान कोरोना टेस्ट नहीं करवाएगा और न ही वह कोई टेस्ट होने देगें. अगर किसी किसान को वैक्सीन लगवानी है तो वह लगवा सकता है. गुरुनाम चढूनी ने कहा कि सरकार आंदोलन में सहायता करने वालों को जानबूझकर परेशान कर रही है. सरकार ऐसा ना करे.

दिल्ली की सीमा पर तीन प्रति कानूनों के खिलाफ लगातार किसान डटे हुए हैं वहीं गर्मी में सबसे ज्यादा किल्लत पानी की ही होती है. उस किल्लत को दूर करने के लिए सोनीपत के ही रहने वाले एक होटल मालिक ने पर ही पानी की सुविधा शुरू की है. जिसमें उन्होंने शुरुआत 11हजार कैंपों से की है. वह खुद का आरो प्लांट लगाकर सभी किसानों को फ्री पानी सुविधा देंगे. होटल के मालिक  राम सिंह राणा ने बताया कि उन्होंने अपनी 3 एकड़ जमीन बेच कर जमीन बेचकर किसानों के लिए फ्री पानी देने की व्यवस्था की है. 11हजार कैंपरों से शुरुआत की गई है. वह खुद का अपना आरो प्लांट लगाएंगे. इसके बाद गाडिय़ों से किसानों के लिए पानी सप्लाई करेंगे ताकि आंदोलन में पानी की कोई कमी ना रहे.

ये भी पढ़े: रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम बताएगा दिल्ली में श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों में खाली जगह है या नहीं!

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED