Logo
July 4 2020 01:36 AM

हॉकी वर्ल्ड कप: आयरलैंड से 0-1 से हारी भारतीय महिला टीम

Posted at: Sep 9 , 2018 by Dilersamachar 6545

दिलेर समाचार, महिला हॉकी वर्ल्‍डकप में भारतीय टीम को आयरलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा है. भारतीय महिला टीम यहां लीग मैच में आयरलैंड से 0-1 से हार गई जिससे उस पर वर्ल्‍डकप क्वार्टर फाइनल की दौड़ से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है. मैच में आयरलैंड के लिए मैच का एकमात्र गोल 13 वें मिनट में एना ओफ्लेनागान ने पेनल्टी कार्नर पर दागा जो अंत में निर्णायक साबित हुआ. इस जीत के साथ आयरलैंड ने लगातार दूसरे मैच में उलटफेर करते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. इससे पहले उसने टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में दुनिया की सातवें नंबर की टीम अमेरिका को 3-1 से हराया था.आयरलैंड के खिलाफ यह भारत की लगातार दूसरी हार है.

इससे पहले पिछले साल जोहानिसबर्ग में हॉकी वर्ल्‍ड लीग सेमीफाइनल में भी आयरलैंड के खिलाफ भारत को 1-2 से हार झेलनी पड़ी थी. इस जीत की बदौलत आयरलैंड पूल बी में छह अंक के साथ शीर्ष पर चल रहा है. उसके बाद इंग्लैंड (दो अंक), भारत और अमेरिका (दोनों एक अंक) का नंबर आता है. दुनिया की 10 वें नंबर की टीम भारत को 16 वें नंबर की टीम आयरलैंड के खिलाफ जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. आयरलैंड ने हालांकि मैच में लगातार अपनी स्थिति मजबूत करते हुए जीत दर्ज की. गर्मी और उमस के बीच रानी रामपाल की अगुआई वाली भारतीय टीम में ऊर्जा की कमी दिखी और आयरलैंड ने उसे काफी परेशान किया. इंग्लैंड के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ खेलने वाले भारत को सात पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन टीम इनमें से एक का भी फायदा नहीं उठा सकी. आयरलैंड ने अपने पहले ही पेनल्टी कार्नर को एना की बदौलत गोल में बदला. आयरलैंड को कुल तीन पेनल्टी कार्नर मिले.

भारत को मैदानी गोल दागने के भी मौके मिले लेकिन उसके फारवर्ड्स गोल करने में नाकाम रहे. दूसरे क्वार्टर के अंतिम मिनट में लिलिमा मिंज के पास गोल दागने का अच्छा मौका था लेकिन उनके कमजोर शाट को विरोधी गोलकीपर ने आसानी से रोक दिया. भारत को 37 वें मिनट में चौथा पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन गुरजीत कौर के फ्लिक को आयरलैंड की गोलकीपर ने दायीं ओर गोता लगाते हुए रोक दिया. भारत को इसके बाद लगातार दो पेनल्टी कार्नर मिले लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी. भारत को 54 वें मिनट में अपना सातवां और अंतिम पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन टीम इसे भी गोल में नहीं बदल सकी. भारत 'करो या मरो' के अपने अंतिम पूल मैच में 29 जुलाई को अमेरिका से भिड़ेगा. टीम को अगर नाकआउट चरण में जगह बनाने की उम्मीद जीवंत रखनी है तो यह मैच हर हाल में जीतना होगा.

ये भी पढ़े: राजस्थान: भारी बारिश से बने बाढ़ के हालात, अलर्ट जारी


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED