Logo
September 30 2020 07:21 AM

साधु-संतों की अहम बैठक: अब काशी-मथुरा को 'मुक्त' कराने के लिए बनेगी रणनीति

Posted at: Sep 7 , 2020 by Dilersamachar 9639

दिलेर समाचार, प्रयागराज. अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण की शुरुआत के साथ ही मथुरा और काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple) परिसर से ज्ञानवापी मस्जिद को मुक्त कराने पर साधु-संत सोमवार को अहम बैठक करने जा रहे हैं. यह बैठक प्रयागराज में सुबह 11 बजे श्रीमठ बाघम्बरी गद्दी में होगी. इस बैठक की अध्यक्षता अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी करेंगे. बैठक में सभी 13 अखाड़ों के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे.

साधु-संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अब काशी और मथुरा मुक्त कराने की मांग की है. द्वादश ज्योतिर्लिंग में शामिल काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर में मौजूद ज्ञानवापी मस्जिद को हटाने की रणनीति तैयार करने के लिए अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने यह अहम बैठक बुलायी है.

अब काशी-मथुरा को मुक्त कराने की बारी

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में प्रयागराज में हर साल लगने वाले माघ मेले और प्रयागराज परिक्रमा मार्ग के मुद्दे पर भी चर्चा होगी. इस बैठक में सभी तेरह अखाड़ों के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे. महंत नरेंद्र गिरि ने कहा है कि मुगलों ने काशी विश्वनाथ मंदिर में मंदिर के ऊपर ज्ञानवापी मस्जिद का निर्माण कराया था. आज जब वहां पर खुदाई हो रही है तो वहां पर सुरंग और मंदिर के दूसरे अवशेष मिल रहे हैं. जिससे यह स्पष्ट हो गया है कि वहां पर मंदिर ही है. उन्होंने कहा कि अब कृष्ण जन्मभूमि और काशी विश्वनाथ मंदिर  को मुक्त कराने की बारी है.

नरेंद्र गिरि ने कहा है कि कोरोना महामारी के बढ़ रहे संक्रमण के चलते जनवरी 2021 में संगम की रेती पर लगने वाले माघ मेले की तैयारियों पर भी इसका असर पड़ सकता है. इसलिए कोरोना काल में प्रयागराज में माघ मेले का आयोजन कैसे होगा, इस पर साधु-संतों से विचार विमर्श करने के लिए ही अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बैठक बुलायी है. यह बैठक श्री मठ बाघम्बरी गद्दी में सुबह 11 बजे से होगी, जिसमें सभी तेरह अखाड़ों के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी कहा है कि इस बैठक में केन्द्र और राज्य सरकार की कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पूरी तरह से पालन किया जायेगा.

ये भी पढ़े: पेशाब रोकने के ऐसे फायदे,जिसे करने के बाद आपका भी मचल जाएगा दिल


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED