Logo
August 7 2020 03:41 PM

भारतीय महिलाओं ने ओलंपिक चैंपियन इंग्लैंड को किया ड्रॉ पर मजबूर

Posted at: Sep 9 , 2018 by Dilersamachar 6337

दिलेर समाचार, तीसरे क्वार्टर तक 1-0 की बढ़त लेने के बावजूद भारतीय महिला हॉकी टीम को यहां विश्व कप के पूल-बी के अपने पहले मैच में शनिवार को ओलिंपिक चैंपियन मेजबान इंग्लैंड से 1-1 का ड्रॉ खेलना पड़ा. लेकिन ड्रॉ  के बावजूद भारतीय बालाओं की तारीफ करनी पड़ेगी कि उन्होंने ओलंपिक चैंपियन के पसीने छुड़ा दिए. भारत के लिए नेहा गोयल ने 25वें और इंग्लैंड के लिए लिली ओस्ले ने 54वें मिनट में गोल किए. भारतीय मिडफील्डर नमिता टोप्पो का यह 150वां अंतरराष्ट्रीय मैच था लेकिन वह इसमें गोल नहीं कर पाई. 

 टीमें गोल करने में विफल रहीं. आठवें मिनट में इंग्लैंड को पेनल्टी कॉर्नर मिला और उसके खिलाड़ी इसमें चूक गए और पहला क्वार्टर गोल रहित रहा. दूसरे क्वार्टर में 20वें मिनट में इंग्लैंड को एक बार फिर पेनल्टी मिली और भारतीय गोलकीपर सविता ने इसका शानदार बचाव किया. सविता ने 22वें मिनट में मिली पेनल्टी को भी विफल कर दिया और इंग्लैंड को बढ़त लेने से महरूम रखा. भारतीय टीम ने दूसरा क्वार्टर समाप्त होने से पांच मिनट पहले ही 25वें मिनट में काउंटर अटैक किया और नेहा गोयल के मैदानी गोल से 1-0 की बढ़त हासिल कर ली. हालांकि, इंग्लैंड ने इस पर रिव्यू लिया जिसे खारिज कर दिया गया. 

 

हाफ टाइम तक 1-0 की बढ़त लेने के बाद भारत ने दूसरे हाफ में भी बेहतरीन खेल जारी रखा. इंग्लैंड की एलेक्स डेसन के पास तीसरे क्वार्टर में बराबरी हासिल करने का मौका था, लेकिन भारतीय रक्षापंक्ति और गोलकीपर सविता ने बखूबी इसका बचाव कर मेजबान टीम को बराबरी हासिल नहीं करने दिया. चौथे और आखिरी क्वार्टर के शुरू होने के बाद 48वें मिनट में इंग्लैंड को पेनल्टी कॉर्नर मिला और सविता ने इस बार भी इसका बचाव कर मेजबान टीम को बढ़त लेने से वंचित रखा. 

इंग्लैंड को इसके बाद 54वें मिनट में भी पेनल्टी कॉर्नर नसीब हुआ और इस बार उसने कोई गलती नहीं की तथा बराबरी हासिल कर ली. इंग्लैंड के लिए यह गोल लिली ओस्ले ने किया. मैच में इसके बाद और कोई गोल नहीं हो सका और मुकाबला 1-1 से ड्रॉ रहा.

ये भी पढ़े: लियोनेल मेसी ने लिया बार्सिलोना के अभ्यास सत्र में हिस्सा


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED