Logo
July 8 2020 01:43 AM

क्या दिल्ली में है अनुभवी और प्रशिक्षित स्वास्थ्यकर्मियों की कमी? मनीष सिसोदिया कही ये बात

Posted at: Jun 28 , 2020 by Dilersamachar 5470

दिलेर समाचार, नई दिल्ली. दिल्ली के उपमख्यमंत्री मनीष सिसिदिया ने कहा है कि हमारे पास अनुभवी स्वास्थ्यकर्मियों की कमी है. उनका कहना है कि इस कमी के वजह से कोरोना के बढ़ते मामलों को संभालने में और ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. गौरतलब है कि दिल्ली में अब कोरोना मरीजों की संख्या 77 हजार के आंकड़े को पार कर गई है. मुंबई के बाद अब दिल्ली देश में कोरोना का नया केंद्रबिंदु बनकर उभरी है. बीते करीब एक हफ्ते से लगातार राज्य मे तीन हजार से ज्यादा केस रोज सामने आ रहे हैं. अनुमानों के मुताबिक दिल्ली में जुलाई के अंत तक कोरोना के करीब 5 लाख मामले सामने आ सकते हैं.

एसोसिएटेड प्रेस को दिए एक इंटरव्यू में इस वक्त दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का कार्यभार देख रहे मनीष सिसोदिया ने आशा व्यक्त की है कि कोरोना मरीजों की संख्या इतनी ज्यादा नहीं बढ़ेगी. लेकिन उनका कहना है कि हम किसी भ्रम में नहीं रह सकते. मेडिकल स्टाफ की उपलब्धता हमारे और दूसरे राज्यों के सामने भी सबसे बड़ा चैलेंज है.

बड़े स्तर पर बढ़ाई जा रही बेड की संख्या

हालांकि मनीष सिसोदिया ने कहा है कि कोरोना संक्रमित हो चुके चिकित्सकों की रिकवरी के बाद सकारात्मक मनोवैज्ञानिक असर पड़ा है. कोरोना संक्रमितों की संख्या राज्य में बढ़ी है लेकिन सुविधाओं को लेकर हालात पहले से बेहतर हुए हैं. उन्होंने कहा है कि महामारी के आउटब्रेक के समय में सरकारी अस्पताल मरीजों से पटे पड़े थे. इन अस्पतालों पर भारी दबाव था. गौरतलब है कि दिल्ली ने कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर करीब 80 बेड की व्यवस्था करने की योजना बनाई है. इसके तहत बड़े स्तर पर काम पूरा भी किया जा चुका है. 10 हजार बेड का एक बड़ा कोविड केयर सेंटर बनकर तैयार हो चुका है.

ये भी पढ़े: अमेरिका के हाथ में चीन की गर्दन, बनाया ये प्लान


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED