Logo
December 6 2020 04:06 AM

पत्रकार खशोगी की गई दूतावास में जान

Posted at: Oct 20 , 2018 by Dilersamachar 9314

दिलेर समाचार, वाशिंगटन। दो हफ्ते तक इनकार करने के बाद आखिरकरा सऊदी अरब ने मान लिया है कि पत्रकार जमाल खशोगी की मौत हो चुकी है। शुरुआती जांच का हवाला देते हुए देश के सरकारी टीवी ने कहा है कि खशोगी की की तुर्की के इंस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्यिक दूतावास में एक संघर्ष के बाद मौत हो गई।

हालांकि, सरकारी टीवी ने जानकारी दी है कि इस मामले में जारी जांच के दौरान सऊदी अरब के 18 नागरिकों को हिरासत में लिया गया है।

इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बयान में कहा था कि मुझे लगता है कि सऊदी के लापता पत्रकार जमाल खशोगी की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी भी दी है कि इसमें अगर सऊदी अरब का हाथ पाया जाता है तो इसके बेहद गंभीर परिणाम होंगे।

ट्रंप का यह बयान सऊदी और तुर्की के दौरे से लौटे विदेश मंत्री माइक पोंपियो द्वारा जांच की जानकारी मुहैया कराए जाने के बाद आया है। ट्रंप ने गुरुवार को कहा था कि वह खशोगी मामले में किसी को बख्शने के मूड में नहीं हैं। उन्हें पोंपियो की रिपोर्ट का इंतजार है।

बता दें कि अमेरिका निवासी खशोगी गत दो अक्टूबर को तुर्की के इस्तांबुल शहर में स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास गए थे। वह तभी से लापता हैं। तुर्की के अधिकारियों को शक है कि दूतावास में ही उनकी हत्या कर दी गई। सऊदी ने हालांकि इन दावों को बेबुनियाद करार दिया है।

खशोगी अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट के स्तंभकार हैं और अपनी तुर्क मंगेतर हैटिस केंगिज से शादी के लिए कुछ दस्तावेज लेने सऊदी दूतावास गए थे। इस मामले की तुर्की और सऊदी दोनों ही जांच कर रहे हैं।

मोंटाना प्रांत रवाना होने के दौरान ट्रंप ने ज्वाइंट एयर फोर्स बेस एंड्रयू में पत्रकारों से कहा, "मुझे यकीनन ऐसा लगता है। यह बेहद दुखद है।" यह पहली बार है जब अमेरिका ने आधिकारिक तौर पर माना कि खशोगी की मौत हो चुकी है। खशोगी को अंतिम बार सऊदी दूतावास में जाते समय देखा गया था।

ट्रंप ने कहा, "हम कुछ जांच नतीजों का इंतजार कर रहे हैं। हमारे पास बहुत जल्द नतीजे होंगे और मुझे लगता है कि मैं बहुत सख्त बयान देने वाला हूं।" ट्रंप ने अभी तक अमेरिका के सहयोगी देश सऊदी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के बारे में कोई बात नहीं कही थी।

अमेरिकी सांसद जिम मैकगवर्न के नेतृत्व में कई सांसदों ने सदन में एक प्रस्ताव पेश किया है। इसमें खशोगी मामले को लेकर सऊदी को हथियार बिक्री पर रोक लगाने की मांग की गई है।

ये भी पढ़े: अमृतसर हादसा : रेलवे ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED