Logo
January 20 2020 05:51 PM

कठुआ रेप केस: हुआ बड़ा खुलासा इसलिए मार दिया गया 8 साल की मासूम को

Posted at: Apr 14 , 2018 by Dilersamachar 5550

दिलेर समाचार, मुंबई। एक ओर जहां देश में कठुआ रेप और मर्डर केस को लेकर गुस्से का माहौल है, वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे लोग भी हैं जो ऐसी वीभत्स घटनाओं पर भी अपमानजक कमेंटबाजी से बाज नहीं आ रहे हैं. दरअसल, प्राइवेट क्षेत्र की कोटक महिंद्रा बैंक के एक कर्मचारी ने कठुआ मामले पर विवादित टिप्पणी की थी, जिसके बाद बैंक ने उसे बर्खास्त कर दिया. दरअसल, कोटक महिंद्रा बैंक ने 8 साल की कठुआ बलात्कार पीड़िता के बारे में सोशल मीडिया पर विवादित टिप्पणी करने वाले अपने कर्मचारी को उसी दिन बर्खास्त कर दिया.

बैंक ने बताया कि वह कोच्चि स्थित अपने बैंक के सहायक मैनेजर विष्णु नंदुकुमार को नौकरी से निकाल दिया गया है. बैंक के प्रवक्ता रोहित राव ने कहा , ‘इस तरह की त्रासद घटना के बारे में किसी के भी द्वारा चाहे वह बैंक का कर्मचारी ही क्यों न हो, ऐसी टिप्पणी करते देखना बेहद दुखद है.’ उन्होंने कहा , ‘हमने खराब प्रदर्शन को लेकर नंदुकुमार को 11 अप्रैल को नौकरी से निकाल दिया है.’ बैंक ने कहा कि हम ऐसी घटना की कड़ी निंदा करते हैं. 

 
नंदुकुमार ने आठ वर्षीय बलात्कार पीड़िता की हत्या को कथित तौर पर सही बताते हुए लिखा था कि वह बड़ी होकर आतंकवादी बन सकती थी. अपने फेसबुक पोस्ट में विष्णु नंदुकुमार ने 8 साल की बच्ची की हत्या और बलात्कार मामले पर लिखा कि ‘उसे अभी इसी उम्र में मार देना अच्छा था, नहीं तो कल को वह भारत के खिलाफ मानव बम बन सकती थी.’ बता दें कि उसने यह कमेंट मलयालम में किया था. 

 

हालांकि, अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि यह पोस्ट उसने कब किया, मगर बैंक कर्मी का यह पोस्ट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो गया और फिर लोग बैंक के फेसबुक पेज पर इसकी बर्खास्तगी की मांग करने लगे.

ये भी पढ़े: पीएम मोदी ने दी अंबेडकर जयंती की शुभकामनाएं


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED