Logo
April 26 2019 03:12 PM

सांप के बारे ये बात जानकर जो हम बताने जा रहे है......

Posted at: Aug 20 , 2017 by Dilersamachar 5236

दिलेर समाचार, जिस तरह से मनुष्य पुराने कपड़े उतारकर नए कपड़े पहनता है ठीक उसी तरह बहुत से जीव-जंतु भी ऐसा करते हैं। इसमे सबसे पहला नाम आता है सरीसृप जीव यानि कि snake का। सांप को केंचुल यानि कि उसकी पुरानी स्किन उतारते हुए तो आप सबने देखा होगा। सांप की केंचुल जंगलों में आसानी से देखने को मिल जाती है। लेकिन क्या कभी आपने इसके पीछे की वजह जानने की कोशिश की है। आखिर क्यों सांप अपनी केंचुल उतारता है। क्यों उसे जरूरत पड़ती है नई खाल (केंचुल) की। आज हम हम आपको बताएंगे की आखिर सांप के इस केंचुल उतारने के पीछे का सबसे बड़ा कारण।यह पारदर्शी सा दिखने वाला बहुत लंबा केंचुल होता है जो एक निश्चित समय और दौर में सांप स्वयं छोड़ देता है। सांप को कोई आम जीव नहीं बल्कि धार्मिक तौर से जोड़कर देखा जाता है। क्योंकि यह शिव के गले में भी रहता है। जैसे पुरानी त्वचा के मृत होने के बाद नई त्वचा उसकी जगह ले लेती है। सांप के साथ भी ऐसा होता है, जब उसकी पुरानी त्वचा मृत हो जाती है तो वह अपना केंचुल उतारकर नई त्वचा धारण कर लेता है। केंचुल उतारने की प्रक्रिया सांप के लिए बेहद फायदेमंद होती है। ऐसा माना जाता है अपना केंचुल उतारकर सांप अपनी उम्र बढ़ाता रहता है। जो सांप निरंतर ऐसा करते रहते हैं उन्हें अमरता प्राप्त हो जाती है।सांप की त्वचा में अगर कोई भी खराबी या बीमारी लग जाती है तो वह जल्द से जल्द अपना केचुल उतारने की कोशिश करता है। इससे उसे नई और साफ त्वचा मिल जाती है। यह उसे किसी भी संक्रमण से भी मुक्त करती है। सामान्य रूप से एक धामन सांप अपने जीवन में 3-4 बार केंचुल उतारता है। लेकिन सांप अपने पूरे जीवन में कितनी बार केंचुल उतारेगा यह बात उसकी उम्र, स्वास्थ्य, उसके आश-पास के रहने की जगह पर निर्भर करती है।

 

ये भी पढ़े: आखिर क्यों भगवान ने इंसानों को बनाया


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED