Logo
July 10 2020 02:33 AM

सिदक सिंह का ऐसा कारनामा कुंबले भी पड़ जाएगें सोच में

Posted at: Nov 4 , 2018 by Dilersamachar 5578

दिलेर समाचार, मुंबई। जब घरेलू सत्र 2018-19 की शुरुआत हुई तो पुडुचेरी घरेलू सर्किट में नई टीम थी और बड़े विवाद में फंस गई थी। विजय हजारे ट्रॉफी में सिर्फ एक मैच खेलने के बाद योग्यता विवाद के चलते उसे अपने आठ बाहरी खिलाड़ियों को बाहर करना पड़ा था। हालांकि शनिवार को दूसरे राज्य से एनओसी लेकर इस टीम से खेलने आए एक खिलाड़ी ने इतिहास बना दिया।

मुंबई के लिए 2015 में सात टी-20 मुकाबले खेलने वाले बायें हाथ के स्पिनर सिदक सिंह ने सीके नायडू अंडर-23 टूर्नामेंट में अनिल कुंबले के पारी में 10 विकेट लेने के कारनामे को दोहरा दिया। सिदक मूल रूप से उत्तर प्रदेश के वाराणसी के रहने वाले हैं, लेकिन क्रिकेट खेलने के लिए वह मुंबई चले गए थे।

सिदक ने मणिपुर के खिलाफ सीएपी ग्राउंड में यह कारनामा किया। 19 साल के इस गेंदबाज ने 17.5 ओवरों में सात मेडन के साथ 31 रन देकर 10 विकेट लिए। इस दमदार प्रदर्शन की बदौलत मणिपुर की पूरी टीम 71 रन बनाकर आउट हो गई। 1999 में कुंबले ने पाकिस्तान के खिलाफ दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर 74 रन देकर पारी में 10 विकेट लिए थे।

उन्होंने इंग्लैंड के जिम लेकर की बराबरी की थी। तीन साल पहले सिदक 15 साल की उम्र में मुंबई के लिए पदार्पण करने वाले दूसरे सबसे युवा खिलाड़ी बने। सचिन तेंदुलकर ने 14 साल की उम्र में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया था।

ये भी पढ़े: देश के लिए खेलने के बाद भी चाय बेचने को मजबूर है भारत की पूर्व महिला फुटबॉलर


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED