Logo
August 7 2020 03:01 PM

होंठों की शान है लिपस्टिक

Posted at: Mar 28 , 2020 by Dilersamachar 8215

दिलेर समाचार, मनु भारद्वाज ‘मनु‘। नारी ईश्वर की सबसे अधिक सुंदर व अमूल्य रचना है और नारी के सौंदर्य में चार चांद लगाते हैं खूबसूरत, नाजुक व आकर्षक होंठ।

यह सत्य है कि सुंदर होंठ किसी को भी अपनी ओर बड़ी सहजता से आकर्षित कर लेते हैं और हांेठों को अव्वल दर्जा दिलाने में अह्म भूमिका होती है लिपस्टिक की।

लिपस्टिक की सहायता से जहां एक ओर चेहरा अधिक निखर जाता है, वहीं व्यक्तित्व का भी पता चल जाता है। कुछ महिलाएं अत्यंत हल्की लिपस्टिक लगाती हैं तो कुछ बहुत भड़कीली व तेज रंग की।

मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि हल्की लिपस्टिक दृढ़ निश्चय, उच्च महत्वाकांक्षा और सर्वत्रा प्रभुत्व जमाने की निशानी है जबकि गहरी लिपस्टिक लगाना स्वार्थ, जोश तथा बेवफाई का आसार है। कुछ महिलाएं बेतरतीब ढंग से लिपस्टिक लगाती हैं जिससे उनमें आवेगपूर्णता व आलस्य होने का पता चलता है।

बहरहाल, लिपस्टिक का रंग चाहे कैसा भी हो किन्तु उसकी क्वालिटी और लगाने का ढंग अच्छा होना चाहिये कयोंकि होंठ शरीर में आंखों की भांति नाजुक अंग हैं जिन्हें सही देखभाल की गहन आवश्यकता होती है।

लिपस्टिक खरीदते समय अति शीघ्रता दिखाने की आवश्यकता नहीं, वरन् विलम्ब ही से सही किन्तु अपना मनचाहा व अच्छा शेड ही लेना चाहिए।

आमतौर पर पाया जाता है कि कुछ महिलाएं लिपस्टिक का अत्यधिक प्रयोग करती हैं जिससे होंठों पर पपड़ी तथा कालापन आ जाता है, त्वचा सिकुड़ने लगती है और कभी-कभी एलर्जी तक हो जाती है। अतः लिपस्टिक लगाते समय अथवा लगाने से पूर्व इन बातों की जानकारी अवश्य होनी चाहिए।

¯ लिपस्टिक लगाने से पूर्व  फाउंडेशन या पाउडर लगाने से चमक देर तक बरकरार रहती है।

¯ लिपस्टिक के प्रभाव से यदि होंठ काले होने लगें तो गुलाब की पत्तियों को गिलसरीन अथवा दूध में मिश्रित करके लगाने से होंठ पुनः अपना वास्तविक रंग प्राप्त कर लेंगे।

¯ लिपस्टिक के इस्तेमाल से पूर्व कभी-कभी होंठों पर मक्खन व तेल जैसे तरल पदार्थ भी लगाते रहना चाहिये, इससे होंठों की त्वचा मुलायम बनी रहती है।

¯ होंठ शुष्क हो जाने पर माश्चराइजर लगायें।

¯ रोज वस्त्रों के अनुसार रंग बदलने से बेहतर है कि होंठों को कुछ रंगों की ही आदत डालें।

¯ लिपस्टिक हमेशा नैसर्गिक रेखा के भीतर लगानी चाहिये। इससे न सिर्फ होंठों को मनचाहा आकार दिया जा सकता है वरन् कोई नुकसान भी नहीं पहुंचता।

¯ रात को सोने से पूर्व लिपस्टिक पोंछ दें और बिना पोंछे एक के ऊपर दूसरी लिपस्टिक कभी न  लगायें।

¯ यदि होंठों का रंग बैंगनी या नीला दिखाई दे तो तुरंत चिकित्सक को दिखायें क्योंकि यह लिपस्टिक द्वारा हुए खून में विकार के लक्षण हैं।

¯ मैट लिपस्टिक लगाने के बाद लिपग्लास लगाने से चमक आ जाती है। गर्मियों में मैट लिपस्टिक का प्रयोग कर सकते हैं।

याद रहे, अच्छी लिपस्टिक होंठों की सुंदरता बढ़ाती है और बेकार रंग सुन्दरता नष्ट ही नहीं करते अपितु व्यक्तित्व पर भी दाग लगा देते हैं।

ये भी पढ़े: Coronavirus Live: देश में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर 873 हुई


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED