Logo
May 19 2024 09:54 AM

मोचा साइक्लोन ले आएगा तेज आंधी-पानी, हाई अलर्ट पर बंगाल-ओडिशा समेत अन्य तटीय राज्य

Posted at: May 8 , 2023 by Dilersamachar 9279

दिलेर समाचार, कोलकाता. बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान ‘मोचा’ बन रहा है. इसको लेकर पश्चिम बंगाल में अलर्ट जारी कर दिया गया है. कोलकाता के सभी पुलिस स्टेशनों को जनरेटर की व्यवस्था करने का आदेश दे दिया गया है. यह निर्देश चक्रवात मोचा के लिए लालबाजार में शहर पुलिस मुख्यालय में स्थापित कमांड सेंटर द्वारा तैयार मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) का हिस्सा है. एसओपी ने आपदा प्रबंधन समूह (डीएमजी) को हाई अलर्ट पर रखा है. बंगाल में चक्रवाती तूफान के असर से 10 मई को कुछ जगहों पर 70-80 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. ओडिशा सरकार ने 18 तटीय और आसपास के जिलों को सतर्क कर दिया है.

द टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार, न्यू टाउन के अधिकारी चक्रवात की तैयारी में सड़कों से पेड़ों की शाखाओं को हटाने के लिए 100 से अधिक पंप, सैंडबैग (नहर के किनारों की ऊंचाई बढ़ाने के लिए) और उपकरणों से लैस टीमों को तैयार कर रहे हैं. रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि कलकत्ता पुलिस के सभी नौ डिवीजनों के उपायुक्तों को जर्जर इमारतों की पहचान करने और अतिरिक्त कर्मियों की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है.

एक रिपोर्ट में मौसम विभाग के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि गुरुवार तक कोलकाता में बारिश की संभावना कम है. इसके अलावा कोलकाता में कंट्रोल रूम खोले गए हैं और चक्रवाती तूफान से जुड़े पहलुओं पर गहरी नजर रखी जा रही है. दरअसल, आशंका जताई जा रही है बंगाल में चक्रवाती तूफान का लैंडफॉल हो सकता है. ऐसे में पहले से ही सतर्कता बरती जा रही है.

बंगाल के दक्षिण हिस्सी में बुधवार तक बारिश की संभावना नहीं के बराबर है. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि मोचा चक्रवात कहां टकराएगा. वहीं अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में मोका के चलते भारी बारिश की संभावता जताई गई है. पर्यटकों और मछुआरों के लिए भी चेतावनी जारी की गई है. इन द्वीप से सटे समुद्र में मछुआरों की आवाजाही सोमवार से गुरुवार तक प्रतिबंधित है.

ये भी पढ़े: राजस्थान : हनुमानगढ़ में IAF का मिग-21 फाइटर क्रैश, 2 लोगों की मौत

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED