Logo
October 17 2021 11:00 AM

थाना सब्जी मंडी पुलिस ने छीना झपटी करने वाले को किया गिरफ्तार

Posted at: Sep 20 , 2021 by Dilersamachar 10148

दिलेर समाचार, दिल्ली। दिल्ली की उत्तरी जिला पुलिस के अंतर्गत आने वाले थाना सब्जी मंडी के पीपी स्टाफ ने लूट व छीना झपटी की वारदात को अंजाम देने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान चावड़ी बाजार निवास अजहर अली(19) के रूप में हुई है। आरोपी के पास से लूटा गया पर्स, कागजात, तीन छीने हुए मोबाइल फोन, एक मोटरसाइकिल और पहले चोरी की मोटरसाइकिल की एक फर्जी नंबर प्लेट आदि बरामद की गई ।  आरोपी का 06 आपराधिक मामलों में शामिल होने का इतिहास भी है ।

9 सितंबर को शिकायतकर्ता गौड़ी लाल मुखिया ने अपनी शिकायत में बताया कि उसे अपने नियोक्ता से वेतन के रूप में 5,200 रुपये मिले थे और नौकरी के बाद वह वापस अपने घर जा रहा था। रात करीब 10:00 बजे जब वह दिल्ली के तीस हजारी स्थित राजेंद्र मार्केट स्थित पेट्रोल पंप के पास पहुंचा तो अचानक पीछे से दो लड़के आए और उनमें से एक ने उनका गला दबा दिया जबकि एक अन्य ने उनका मोबाइल फोन और पर्स लूट लिया जिसमें 5,200 रुपये, एटीएम कार्ड, आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज थे और दोनों मौके से भाग गए। इसके अनुसार थाना सब्जी मंडी में मामला दर्ज किया गया और पुलिस द्वारा जांच शुरू कर दी गई।

एसआई ललित कुमार (आई/सी पीपी टीएचसी) के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया, जिसमें एएसआई राकेश, सीटी प्रवीण और सीटी धर्मेंदर शामिल थे। अपराधियों को पकड़ने के लिए एसएचओ थाना सब्जी मंडी और एसएचओ नीरज कुमार, एसीपी/सदर बाजार के देखरेख में टीम ने तकनीकी जांच की और घटना स्थल के आसपास लगाए गए कई सीसीटीवी कैमरों और अपराधियों के संभावित रास्तों की जांच कर विश्लेषण किया गया। गुप्त सूत्रों की मदद से पुलिस को शनिवार 18 सितंबर को सूचना मिली कि इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी संभवतः पेट्रोल पंप, राजेंद्र मार्केट, तीस हजारी, दिल्ली के पास के क्षेत्र में घूम रहा है, जो चोरी और छीने हुए मोबाइल फोन को बेचने का प्रयास कर रहा है। सूचना पर तुरंत प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पुलिस ने कथित स्थान के पास जाल बिछाया और अंतत मुखबिर के कहने पर पुलिस को एक आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई। जिसकी पहचान अजहर अली के रूप में हुई है । उसकी निजी तलाशी लेने पर लूटा गया पर्स जिसमें नकदी 2,042 रुपये थे। उसके पास से 03 मोबाइल फोन के साथ शिकायतकर्ता का आधार कार्ड और दो विजिटर कार्ड बरामद किए गए।

आरोपी अजहर अली से पूछताछ के दौरान उसने अपने सहयोगी सलमान के साथ बुधवार 8 सितंबर को डकैती की बात कबूल की। उन्होंने आगे खुलासा किया कि पहले वह अकेले अपराध किया करता था, लेकिन दो महीने पहले उनकी मुलाकात सलमान नामक व्यक्ति से हुई और दोनों ने मिलकर अपराध करना शुरू कर दिया। सह आरोपी सलमान ने लूटा गया मोबाइल फोन के साथ ही शिकायतकर्ता का एटीएम कार्ड छीन लिया है। इसके अलावा आरोपी अजहर अली ने खुलासा किया कि उसने वर्ष 2021 के फरवरी माह में आइपी कमला मार्केट के क्षेत्र से एक मोटरसाइकिल चोरी की थी और उसी पर उसने अपराध किया था। बाद में मोटरसाइकिल की नंबर प्लेट निकालकर अपने पास रख ली। बाद में उसने मई, 2021 के मई माह में थाना लाजपत नगर के क्षेत्र से एक और मोटरसाइकिल चुराई और नंबर प्लेट को पिछले एक से बदलकर अपराध करने में इसी का इस्तेमाल कर रहा था। उसके कहने पर फर्जी नंबर प्लेट और चोरी की मोटरसाइकिल भी बरामद कर ली। पूछताछ के दौरान पता चला कि आरोपी अजहर अली आदतन अपराधी है, जो पहले 06 आपराधिक मामलों में संलिप्त पाया गया था। वह दिसंबर, 2020 में जेल से रिहा हुआ था। वह स्कूल छोड़ने वाला है और केवल 8वीं कक्षा तक पढ़ाई की है और शराबी है । पहले वह कॉलोनियों में पर्दे बेचता था लेकिन कमाई पर्याप्त नहीं थी, इसलिए उसने अपराध करना शुरू कर दिया। उसके सहयोगी सलमान को पकड़ने के लिए छापे मारे गए, लेकिन वह फरार है। मामले की आगे की जांच चल रही है।

ये भी पढ़े: केरल में रातोंरात करोड़पति बना ऑटो ड्राइवर, जानें कैसे हुआ चमत्कार

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED