Logo
September 24 2021 02:29 AM

पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले मुफ्त बिजली के वादों की सौगात, जानें कौन सी पार्टी देगी कितने यूनिट फ्री बिजली

Posted at: Aug 4 , 2021 by Dilersamachar 9376

दिलेर समाचार, चंडीगढ़. पंजाब में चुनाव (Punjab Assembly Election 2022) के मद्देनजर मतदाताओं को लुभाने के लिए राजनीतिक दलों में कंपीटिशन तेज होता जा रहा है. हाल ही में जहां पंजाब कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) हाईकमान द्वारा मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) को दिया 18 सूत्रीय एजेंडा लेकर जनता के बीच घूम रहे हैं, वहीं कुछ दिन पहले आम आदमी पार्टी के कनवीनर व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पंजाबियों को 300 यूनिट बिजली फ्री देने का ऐलान कर गए हैं. शिअद के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल (SAD President Sukhbir Singh Badal) भी अपना एजेंडा लेकर मीडिया से रुबरू हुए और पंजाब के लोगों को 400 यूनिट बिजली फ्री देने का वादा कर गए.

इससे पहले कांग्रेस दोबारा सत्ता में आने पर 200 रुपए प्रति यूनिट बिजली मुफ्त देने की बात भी कर चुकी है. यही नहीं शिअद कांग्रेस के 18 सूत्रीय एजेंडे के मुकाबले अपना 13 सूत्रीय एजेंडा चुनावी अखाड़े में उतारा. कैप्टन सरकार ने महिलाओं को मुफ्त बस सेवा दी है, इसके जवाब में शिरोमणि अकाली दल ने नीले कार्ड धारक महिलाओं को 2000 रुपये प्रति महीना देने का ऐलान कर डाला. साथ ही महिलाओं को सरकारी नौकरियों में 50 फीसदी आरक्षण देने जैसे बड़े वादे भी कर डाले. सबसे बड़ी बात तो यह है कि अभी पंजाब के चुनाव के लिए करीब सात माह का समय है, उसके पहले ही पार्टियां मतदाताओं को रिझाने में लगी हुई हैं.

उधर पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने पार्टी के दलित मंत्रियों और विधायकों के साथ एक सप्ताह में दूसरी बैठक की. बैठक के दौरान राज्य सरकार द्वारा दलित समुदाय की शिकायतों के समाधान की कार्ययोजना तैयार की गई. मंत्रियों सहित लगभग 20 विधायकों ने पंजाब के दलित नेतृत्व के साथ व्यापक विचार-विमर्श और विचार-मंथन किया. उन्होंने राज्य के अनुसूचित जाति समुदाय के कल्याण के लिए आवश्यक कार्यक्रमों और नीतियों के बारे में विस्तार से बात की. पीसीसी अध्यक्ष सिद्धू ने 18 सूत्री एजेंडे को पूरा करने और दलित समुदाय के लिए किए गए वादे से भी ज्यादा जल्द से जल्द पूरा करने की पार्टी की प्रतिबद्धता दोहराई. सात महीने पहले ही जनता की के आगे वादों की बयार लग गई है. देखना यह है कि पंजाब में सात माह के भीतर चुनावी वादों की कितनी बोलियां लगती हैं.

शिअद का 13 सूत्रीय एजेंडा :-

– घरेलू उपभोक्ताओं के लिए देंगे 400 यूनिट बिजली मुफ्त

– माता खीवी योजना के तहत नीला कार्ड धारक महिलाओं को हर माह मिलेंगे 2000 रुपए.

– डीजल मिलेगा वर्तमान रेट से 10 रुपए कम.

– 10 लाख रुपए की सेहत बीमा योजना को सरकारी-प्राइवेट अस्पतालों में करेंगे लागू.

– छात्रों को देंगे 10 लाख रुपए का ब्याज मुक्त ऋण.

– फलों, सब्जियों और दूध पर भी एमएसपी देंगे. तीन कृषि कानून नहीं किए जाएंगे लागू.

– एक लाख सरकारी नौकरियां देंगे, 10 लाख नौकरियों का प्राइवेट सैकटर में देने का वादा.

– सभी जिलों में 500 बिस्तर का अस्पताल व मेडिकल कॉलेज उपलब्ध होगा.

– सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 50% आरक्षण देंगे.

– सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के उद्योगों में युवाओं के लिए 75% नौकरी में आरक्षण का वादा

– मध्यम और लघु उद्योगों को 5 रुपए प्रति यूनिट पर बिजली.

– अनुबंध पर रखे सफाईकर्मी किए जाएंगे रेगुलर.

– सरकारी दफ्तर करेंगे कंप्यूटरीकृत.

ये भी पढ़े: नारीशक्ति हमारा मूलमंत्र है-अलका गुर्जर

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED