Logo
February 19 2020 01:40 PM

अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये का निवेश करेगा कतर इन्‍वेस्‍टमेंट अथॉरिटी

Posted at: Dec 14 , 2019 by Dilersamachar 5825

दिलेर समाचार, मुंबई, 11 दिसंबर, 2019:  अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड (“एटीएल”), अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड (“एईएमएल”) और कतर इन्‍वेस्‍टमेंट अथॉरिटी (“क्‍यूआइए”) की अनुषंगी ने एईएमएल में 25.1 प्रतिशत हिस्‍सेदारी क्‍यूआइए को बेचने और एईएमएल में क्‍यूआइए द्वारा शेयरधारक सबऑर्डिनेटेड डेट निवेश के लिए एक निर्णायक अनुबंध पर हस्‍ताक्षर किये हैं। एईएमएल में क्‍यूआइए लगभग 3,200 करोड़ रुपये (लगभग 450 मिलियन डॉलर के बराबर) का निवेश करेगा।

एईएमएल एकीकृत बिजली वितरण, पारेषण और उत्‍पादन व्‍यावसाय के लिए लाइसेंसधारी है जोकि फिलहाल मुंबई शहर में लगभग 400 वर्ग किलोमीटर के लाइसेंस क्षेत्र में 3 मिलियन से अधिक उपभोक्‍ताओं को सेवायें देता है। मुंबई आबादी के लिहाज से दुनिया का सातवां सबसे बड़ा शहर है। एईएमएल की मुंबई में बाजार हिस्‍सेदारी लाइसेंस क्षेत्र के मामले में लगभग 87 प्रतिशत और सेवा पाने वाले उपभोक्‍ताओं के मामले में 67 प्रतिशत और बिजली आपूर्ति के मामले में 55 प्रतिशत है।

इस लेनदेन के हिस्‍से के तौर पर, एटीएल और क्‍यूआइए ने निर्णायक योजनाओं पर सहमति जताई है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि एईएमएल द्वारा आपूर्ति की जाने वाली 30 प्रतिशत से अधिक बिजली वर्ष 2023 तक सौर और पवन ऊर्जा संयंत्रों से मंगाई जाएगी। इसके अलावा, एटीएल एवं क्‍यूआइए कई अन्‍य हरित पहलों पर भी राजी हुए हैं ताकि जलवायु परिवर्तन से लड़ा जा सके और एक स्‍थायी, कम कार्बन वाली अर्थव्‍यवस्‍था का रुख किया जा सके।

यह लेनदेन भारत और कतर के बीच लगातार मजबूत हो रहे संबंधों और आने वाले सालों में उनके संबंधों को और विकसित करने के लिए दोनों देशों की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।

अदाणी ग्रुप के चेयरमैन श्री गौतम अदाणी ने कहा, “हमें कतर इन्‍वेस्‍टमेंट अथॉरिटी के साथ इस साझेदारी पर आगे बढ़कर खुशी हो रही है। साथ मिलकर, हम मुंबई में एईएमएल के 3 मिलियन उपभोक्‍ताओं के लिए आपूर्ति की विश्‍वसनीयता एवं ग्राहक संतुष्टि को सुधारने की दिशा में काम करेंगे। हमें भरोसा है कि यह लेनदेन अदाणी ग्रुप की यात्रामें एक उल्‍लेखनीय कदम होगा, और यह क्‍यूआइए के साथ दीर्घकालिक साझेदारी की शुरुआत को दर्शाता है।”

क्‍यूआइए के चीफ एक्‍जीक्‍यूटिव ऑफिसर, श्री मंसूर अल महमूद ने कहा, ”हमारा मानना है कि अदाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड भारत में श्रेणी में सर्वोत्‍तम बिजली कंपनी है और इसमें वृद्धि करने का जबर्दस्‍त सामर्थ्‍य है। हम अदाणी ग्रुप के साथ लंबी साझेदारी के लेकर तत्‍पर हैं जिनके साथ हम निवेश पर अंतर-पीढ़ी परिदृश्‍य साझा करते हैं। साथ ही एईएमएल की निरंतर सफलता और स्‍थायी विकास के लिए हमारा विजन भी समान हैं।”

श्री अल महमूद ने बताया, “यह निवेश भारत में हमारे भरोसे को दर्शाता है, जिसके साथ कतर काफी मजबूत गठबंधन और शानदार संबंधों को साझा करता है।”

यह लेनदेन निवेश की सीरीज में नया है जिसे क्‍यूआइए द्वारा वैश्विक स्‍तर पर भरोसेमंद साझीदारों के साथ विश्‍वस्‍तरीय आधारभूत संरचना परिसंपत्तियों में किया गया है।

यह लेनदेन 2020 की शुरुआत में पूरा होने की संभवना है और यह विनामकीय मंजूरियों की स्‍वीकृति एवं पूर्ववर्ती प्रथागत स्थितियों की संतुष्टि के के अधीन है।

इस लेनदेन के लिए एसकेएन एडवायजर्स लिमिटेड वित्‍तीय सलाहकार और साइरिल अमरचंद मंगलदास एटीएल और एईएमएल के कानूनी सलाहकार थे। 

इस लेनदेन में क्‍यूआइए के लिए जे.पी. मॉर्गन ने वित्‍तीय सलाहकार और क्लियरी गोट्टलिएब स्‍टीन एंड हैमिल्‍टन एलएलपी और एजेडबी एंड पार्टनर्स ने कानूनी सलाहकार की भूमिका निभाई।

ये भी पढ़े: जामिया के समर्थन में आए देशभर के छात्र


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED