Logo
October 17 2019 10:52 AM

राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर मामले में सत्यपाल मलिक को ट्वीट से दिया करारा जवाब

Posted at: Aug 14 , 2019 by Dilersamachar 5271

दिलेर समाचार, नई दिल्ली। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के राज्य का दौरा करने का न्योता दिए जाने पर एक बार फिर अपना रिएक्शन दिया है. इस बार उन्होंने अपने ट्वीट में मलिक की जगह 'मालिक जी' लिखकर राज्यपाल सत्यपाल मलिक  पर तंज कसा है. उन्होंने लिखा: "प्रिय मालिक जी, मैंने अपने ट्वीट पर आपका जवाब देखा.  मैं जम्मू-कश्मीर की यात्रा करने और लोगों से मिलने के आपके निमंत्रण को स्वीकार करता हूं, जिसमें किसी भी प्रकार की शर्त नहीं है. मैं कब आ सकता हूं." कांग्रेस नेता राहुल गांधी  (Rahul Gandhi)  ने इस तरह फिर से जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के न्योते को लेकर ट्वीट किया और पूछा कि मैं जम्मू कश्मीर कब आ सकता हूं.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने इससे पहले भी एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था:  "प्रिय राज्यपाल (जम्मू एवं कश्मीर) मलिक, मैं तथा विपक्षी नेताओं का शिष्टमंडल जम्मू एवं कश्मीर तथा लद्दाख के दौरे के लिए आपके उदार निमंत्रण को स्वीकार करते हैं... हमें विमान की आवश्यकता नहीं होगी, लेकिन कृपया सुनिश्चित करें कि हमें घूमने तथा लोगों, मुख्यधारा के नेताओं और वहां तैनात फौजियों से मिलने की आजादी मिले..." राहुल गांधी का यह ट्वीट जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के उस निमंत्रण के बाद आया था, जिसमें उन्होंने राहुल गांधी को घाटी का दौरा करने और जमीनी हकीकत जानने के लिए एक विमान भेजने के लिए कहा था.

गौरतलब है कि बीते दिनों जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राज्य का दौरा करने के लिए पूर्व शर्तें लगाने को लेकर मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी की आलोचना की और आरोप लगाया कि गांधी विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल लाने की बात कर अशांति पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं.  कश्मीर में हिंसा की खबरों संबंधी गांधी के बयान पर मलिक ने सोमवार को कहा था कि वह राहुल गांधी को घाटी का दौरा करने और जमीनी हकीकत जानने के लिए एक विमान भेजेंगे. राज्यपाल ने एक बयान में कहा कि गांधी ने यात्रा के लिए कई शर्तें रखी थीं जिनमें हिरासत में बंद मुख्यधारा के नेताओं से मुलाकात भी शामिल है. कांग्रेस ने राज्य का दौरा करने के प्रस्ताव पर 'यू-टर्न लेने' के लिए राज्यपाल पर पलटवार किया और कहा कि उन्हें अपनी बात पर डटे रहना चाहिए.   

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा था, "राज्यपाल यू-टर्न ले रहे हैं. उन्होंने प्रस्ताव दिया था कि हर कोई स्वयं घाटी में आकर स्थिति का आकलन कर सकता है." कांग्रेस ने कहा था, "उन्हें अपने शब्दों पर डटे रहना चाहिए और बहुदलीय प्रतिनिधिमंडल को बिना रुकावट के जम्मू-कश्मीर के दौरे की अनुमति देनी चाहिए." मलिक ने कहा था कि उन्होंने कांग्रेस नेता को कभी इतनी पूर्व शर्तों के साथ आमंत्रित नहीं किया था.

ये भी पढ़े: स्वतंत्रता दिवस : वीर चक्र से सम्मानित होंगे कमांडर अभिनंदन


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED