Logo
April 25 2019 05:51 AM

राजीव शुक्ला नहीं, नारायण भाई राठवा को ही राज्यसभा भेजेगी कांग्रेस: शक्ति सिंह गोहिल

Posted at: Mar 12 , 2018 by Dilersamachar 5261

दिलेर समाचार, नई दिल्ली: नॉमिनेशन से ठीक पहले कांग्रेस की ओर से गुजरात से राज्यसभा प्रत्याशी बदले जाने की खबर का पार्टी की ओर से खंडन किया गया है. गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल ने बताया कि कांग्रेस की ओर से नारायण भाई राठवा ने राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल कर दिया है. उन्होंने साफ तौर से कहा कि नारायण राठवा की जगह राजीव शुक्ला को प्रत्याशी बनाए जाने की बात अफवाह थी. 

इससे पहले राज्यसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने 9 उम्मीदवारों की लिस्ट रविवार रात जारी कर दी थी. लिस्ट में गुजरात से दो नाम दिए गए थे. पहला नाम था नारायण भाई राठवा का तो वहीं दूसरी सीट पर कांग्रेस ने महिला उम्मीदवार के तौर पर आमि याग्निक पर दांव लगाया था. इसी बीच सोमवार दोपहर को खबर आई कि किसी वजह से कांग्रेस ने गुजरात में एक प्रत्याशी को बदल दिया है. नॉमिनेशन में किसी जरूरी कागजात की कमी के चलते नारायण भाई राठवा की जगह राजीव शुक्ला को प्रत्याशी बनाया गया है. हालांकि कांग्रेस पार्टी ने अब इस सूचना को खारिज कर दिया है. 

अहमद पटेल के करीबी हैं राठवा
गुजरात से कांग्रेस ने नारायण भाई राठवा और महिला उम्मीदवार आमि याग्निक पर दांव लगाया था. नारायण भाई राठवा यूपीए-1 की सरकार में रेल राज्य मंत्री थे, लेकिन 2014 का लोकसभा चुनाव वह हार गए थे. डॉक्टर नारायण भाई राठवा सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल के करीबी माने जाते हैं और माना जा रहा है कि टिकट उन्होंने ही दिलाया था. वहीं आमि याग्निक का नाम चौंकाने वाला है क्योंकि उन को टिकट मिल जाएगा इसकी उम्मीद गुजरात कांग्रेस के नेताओं को नहीं थी. याग्निक मीडिया पैनलिस्ट हैं और पेशे से वकील हैं. यहां से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी भी मजबूत दावेदार थे, लेकिन उनको लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए कह दिया गया.

ये भी पढ़े: इस कारण भारत के खिलाफ टेस्ट नहीं खेल पाएगा यह सबसे बड़ा करोड़पति!


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED