Logo
December 10 2022 11:35 AM

RBI दे सकता है बड़ा झटका, इस बार लिया ये बड़ा फैसला

Posted at: Feb 23 , 2018 by Dilersamachar 9644

दिलेर समाचार, नोटबंदी के बाद से लोगों में मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल बढ़ गया है। लेकिन अब जब लोगों को मोबाइल वॉलेट से ट्रांजैक्शन करने की आदत सी पड़ गई है तो खबर है की रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया मार्च तक मोबाइल वॉलेट बंद करने का फैसला कर सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो आरबीआई आने वाले मार्च यानी की अगले महीने तक मोबाइल वॉलेट बंद करने का आदेश दे सकती है।

यह हो सकता है इस फैसले का कारण - 

इसके पीछे का कारण यह माना जा रहा है की मोबाइल वॉलेट कंपनियों ने रिजर्व बैंक का एक जरुरी आदेश पूरा नहीं किया है। इस नियम के पूरा न होने पर मोबाइल वॉलेट बंद कर दिए जाएंगे। आरबीआई के इस आदेश को 1 मार्च तक पूरा करने का समय है। अगर मोबाइल वॉलेट कंपनियों ने 1 मार्च तक इस आदेश को पूरा नहीं किया तो मोबाइल वॉलेट बंद कर दिए जाएंगे।

यह आदेश करना है पूरा - 

गौरतलब है की आरबीआई ने देश में लाइसेंस प्राप्त सभी मोबाइल वॉलेट कंपनियों को अपने ग्राहकों के eKYC नॉर्म्स पूरा करने का आदेश दिया था। इस काम को पूरा करने के लिए कंपनियों को 28 फरवरी 2018 तक का समय दिया गया। इस सन्दर्भ में ज्यादातर कंपनियां आरबीआई के इस आदेश को पूरा करने में सफल नहीं रही हैं। फरवरी खत्म होने में अभी भी कुछ दिनों का समय शेष है। अगर फरवरी खत्म होने के बाद भी यह पूरा नहीं हुआ तो देश भर में कई कंपनियों के मोबाइल वॉलेट बंद हो जाएंगे।

91 प्रतिशत अकाउंट्स पर पड़ सकता है असर - 

आकंड़ों पर गौर करें तो फिलहाल पूरे देश में 9 प्रतिशत से कम मोबाइल वॉलेट उपभोक्ताओं ने अपने eKYC कंपनियों को दिया है। अभी भी लगभग 91 प्रतिशत मोबाइल वॉलेट अकाउंट बिना eKYC के चल रहे हैं। आने वाले समय में इन 91 प्रतिशत उपभोक्ताओं के अकाउंट बंद होने की आशंका है।

करा लें eKYC पूरा - 

पेटीएम, एयरटेल मनी जैसे कई मोबाइल वॉलेट कंपनियां ग्राहकों को समय पर eKYC पूरा करने के लिए सूचित कर रही हैं। इस प्रक्रिया में ग्राहकों को अपने मोबाइल वॉलेट को आधार कार्ड और पैन कार्ड से लिंक करवाना होगा। eKYC प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपका मोबाइल वॉलेट सुरक्षित होगा।

ये भी पढ़े: फिर एक साथ नजर आएंगे सनी देओल और डिंपल

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED