Logo
February 19 2020 12:57 AM

गणतंत्र दिवसः राजपथ पर दिखी भारत की सैन्य ताकत व सांस्कृतिक विरासत

Posted at: Jan 26 , 2018 by Dilersamachar 5325

दिलेर समाचार, नई दिल्ली। 69वें गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत ने राजपथ पर अपनी सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक धरोहर और विविधताओं का प्रदर्शन किया। इसका खास आकर्षण रहा बीएसएफ की महिला टुकड़ी सीमा भवानी का प्रदर्शन।

भारतीय इतिहास में पहली बार आसियान के दस देशों के राष्ट्राध्यक्ष एक साथ मुख्य अतिथि के रूप में पधारे हैं। राजपथ पर गणतंत्र दिवस का उत्‍सव मनाया जा रहा है। पीएम मोदी ने सभी आसियान राष्‍ट्राध्‍यक्षों का स्‍वागत किया और राष्‍ट्रपति कोविंद रामनाथ की मौजूदगी में राष्‍ट्रध्‍वज फहराने के साथ ही पूरा राजपथ जन गण मन से गूंज उठा।

फिलहाल परेड का कार्यक्रम चल रहा है। इसकी शुरुआत आसियान देशों के राष्ट्रीय ध्वजों के साथ हुई। यह पहली बार है कि परेड की शुरुआत किसी अन्य देश के दस्ते के साथ हुई हो। पूर्व सैनिकों की झांकी भी निकाली गई। भारत के युद्ध टैंक की क्षमता भी दिखाई गई। इनमें ब्रह्मोस, T-70 टैंक, अग्नि मिसाइल शामिल रहे। निर्भय मिसाइल का प्रदर्शन किया गया, जो रडार को चकमा देकर कम ऊंचाई पर उड़ने की क्षमता रखती है। स्वाति रडार का दम भी दिखा। इसके माध्‍यम से सात जगहों पर एक साथ निशाना साधा जा सकता है। सीमा सुरक्षा बल का दस्ता निकला, इस दौरान ऊंटों वाले दस्ते ने सभी का ध्यान आकर्षित किया। देश की तीनों सेनाओं ने शक्ति और शौर्य का प्रदर्शन किया।

फिलहाल विभिन्‍न राज्‍यों की सांस्‍कृतिक झांकियां पेश की जा रही हैं, जो विविधता में भी एकता का संदेश देने वाली हैं। हिमाचल प्रदेश की बुद्ध को समर्पित ये झांकी दुनिया को शांति का संदेश दे रही है। महाराष्‍ट्र, गुजरात, उत्‍तराखंड, असम, मणिपुर, पंजाब, कर्नाटक, केरल, छत्‍तीसगढ़, लक्षद्वीप, त्रिपुरा जैसे राज्‍यों की भी मनमोहक झांकियां निकली। इनमें रामायण की कहानी बयां करती झांकी भी शामिल है।

राजपथ पर भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की खूबसूरत झांकी भी निकली। कई अन्‍य मंत्रालयों की भी विशेष थीम के साथ झांकियां निकलीं। साथ ही इसके जरिए विशेष अपील भी की गई। युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय की 'खेलो इंडिया' थीम के साथ झांकी निकली। आयकर विभाग की झांकी में स्वच्छ धन अभियान को बढ़ावा देने की अपील की गई।

राजपथ पर राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार से सम्मानित बहादुर बच्‍चों की झांकी भी निकली। देश भर के विभिन्‍न स्‍कूलों के छात्रों ने अपने सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों से भी मौजूद दर्शकों का मन मोह लिया।

परेड में पहली बार बीएसएफ की महिला जवानों ने मोटर साइकिल पर करतब दिखाया, जिसे देख हर कोई हैरान रह गया। सुप्रीम कमांडर ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सलामी दी।

इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया। शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से नवाजा गया. उनकी पत्नी ने राष्ट्रपति से पुरस्कार प्राप्त किया। इस दौरान राष्‍ट्रपति भावुक भी नजर आए।

अमर जवान ज्‍योति पहुंच पीएम ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि - 

इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने अमर जवान ज्योति पहुंच कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उनके साथ तीनों सेना के प्रमुख और रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण भी मौजूद थीं। अमर जवान ज्योति के बाद पीएम मोदी राजपथ पहुंचे, जहां उनका रक्षामंत्री ने स्वागत किया।

परेड में शामिल होंगी 23 झांकियां -

गणतंत्र दिवस परेड में सैन्य अफसर आसियान का झंडा लेकर चलेंगे। राजपथ पर परेड में विभिन्न राज्यों, मंत्रालयों, आल इंडिया रेडियो समेत 23 झांकियां होंगी। 1967 में स्थापित आसियान में थाईलैंड, मलेशिया, वियतनाम, इंडोनेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, म्यांमार, कंबोडिया, लाओस और ब्रूनेई हैं। इन सभी देशों के नेताओं के मुख्य अतिथि बनने को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले ही ऐतिहासिक और अभूर्तपूर्व करार दे चुके हैं।

ये भी पढ़े: भारत का तीसरा विकेट गिरा, पुजारा 1 रन बनाकर आउट


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED