Logo
August 9 2020 11:32 AM

कुछ ऐसा था पहला फिल्मफेयर अवार्ड...

Posted at: Jan 17 , 2017 by Dilersamachar 7448
फिल्मफेयर को भारतीय फिल्म इंड्रस्ट्रीज में फिल्म से जुड़े लोगों के दिए जाने वाला सबसे प्रतिष्ठित फिल्म अवार्ड है। बॉलीवुड में फिल्मफेयर अवार्ड पाना फिल्मों से जुड़े हर एक शख्स के लिए किसी सपने के सच होने जैसा है। 

ये भी पढ़े: इस महान गायिका की पहचान खो गई कही

कैसे हुई फिल्मफेयर की शुरुआत...

फिल्मफेयर की शुरुआत साल 1954 में की गई थी। फिल्मफेयर अवार्ड का नाम शुरुआत में ”द क्लेयर्स” रखा गया जो टाइम्स ऑफ इंडिया के फिल्म समीक्षक क्लेयर मेंदिनोचा के नाम पर रखा गया था। लेकिन उसी साल क्लेयर मेंदिनोचा के निधन के बाद इसका नाम बदलकर फिल्मफेयर रख दिया गया। यह प्रतिष्ठित फिल्म अवार्ड फिल्मफेयर मैगजीन के पाठको के द्वारा वोटिंग के तर्ज पर और साथ ही ज्यूरी के सदस्यों के वोटिंग के आधार पर हर साल दी जाती है।

ये भी पढ़े: दिलचस्प थी अनिल कपूर की प्रेम कहानी...

21 मार्च 1954  को मुंबई के मेट्रो थिएटर में पहला फिल्मफेयर अवार्ड आयोजित किया गया जिसमें सिर्फ पाँच कैटेगरी में अवार्ड दी गई। पहले फिल्मफेयर अवार्ड सेरेमनी में हॉलीवुड स्टार ग्रेगरी पेक को मुख्य विदेशी मेहमान के तौर पर निमंत्रण दिया गया लेकिन ऐन मौके पर उनकी फ्लाइट कोलंबो में विलंब हो गई जिसके कारण वो अवार्ड सेरेमनी में  सही समय पर नहीं पहुंच पाए। हालांकि उसी रात अवार्ड सेरेमनी के बाद आयोजित हुए भोज में ग्रेगरी पेक शरीक हुए । इसके अलावा समारोह के मुख्य अतिथि थे भारत में अमेरिकी राजदूत जॉर्ज एलेन।

पहले फिल्मफेयरअवार्ड में मुख्य कैटेगरी में बेस्ट फिल्म, बेस्ट निर्देशक, बेस्ट अभिनेता, बेस्ट अभिनेत्री और बेस्ट संगीत में महान कालाकारों को अवार्ड दिया गया।

फिल्म इतिहास के पहले फिल्मफेयर अवार्ड के विजेताओं की घोषणा फिल्मफेयर मैगजीन पढ़ने वाले पूरे भारत से 20000 पाठकों के द्वारा दिए गए मतों के अधार पर की गई।

फिल्मफेयर अवार्ड की शुरुआत एक रंगारंग कार्यक्रम के तहत हुई जिसमेंअभिनेता डेविड अब्राहम चेलकर (जो एक यहूदी भारतीय हिन्दी फिल्म अभिनेता थे) ने अवार्ड समारोह का संचालन किया जिसके बाद अभिनेत्री नलिनी जयवंत ने राष्ट्रगान गाकर इस प्रतिष्ठित फिल्म अवार्ड की शुरुआत की।

इसके अलावा कई अदाकारों ने समारोह में अपनी कलाकारी की पेशकश दी थी जिसमें मशहूर गायक तलत महमूद, मोहम्मद रफी और गीता रॉय ने अपनी गायकी से सभी का दिल जीत लिया था। 

इस अवार्ड समारोह में शास्त्रीय नृत्य का प्रदर्शन मशहूर अदाकारा वैजयंती माला और सूर्य कुमारी ने दी। पहले फिल्मफेयर अवार्ड समारोह का समापन कामिनी कौशल और उसकी मंडली द्वारा "राजस्थान के आकर्षण" पर आधारित लोक-नृत्य कर किया था।

पहले फिल्मफेयर अवार्ड में बेस्ट अभिनेता का पुरस्कार ग्रेट दिलीप कुमार और बेस्ट निर्देशन का पुरस्कार बिमल राय को दिया गया

पहले फिल्मफेयर अवार्ड जिसमें फिल्म “दो बीघा ज़मीन” को सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म, सर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए बिमल राय (दो बीघा ज़मीन), सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए दिलीप कुमार (दाग), सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए मीना कुमारी (बैजू बावरा), एवं इसी फिल्म में लिए सर्वश्रेष्ठ संगीत के लिए नौशाद को अवार्ड दिए गए।

आपको जानकर हैरानी होगी कि पहले फिल्मफेयर पुरस्कार में कालाकारों को पाठकों द्वारा अवार्ड प्रदान किए गए। अवार्ड देने वाले पाठकों का चुनाव एक लकी ड्रा के माध्यम से किया गया। सर्वश्रेष्ठ फिल्म की ट्रॉफी हैदराबाद सैजुद्दीन से आए पाठक एलन ने बिमल रॉय को दिया तो उन्होंने ही मीना कुमारी और दिलीप कुमार को बेस्ट अभिनेता और बेस्ट अभिनेत्री का अवार्ड प्रदान किए।

सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार बिमल रॉय को मुंबई से चुने गए लकी पाठक सन्नी कॉर्डिएरो ने प्रदान किया था।

संयोग से बिमल रॉय और दिलीप कुमार को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक और सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार दिया जाना था लेकिन मेट्रो थिएटर के बाहर दोनों के फैन्स काफी मात्रा में इकठ्ठे हो गए , लगा कि फैन्स अवार्ड सेरेमनी में कुछ परेशानी पैदा कर सकते हैं जिसके कारण दोनों को उनके अवार्ड बाद में वेलिंगटन जिमखाना क्लब में आयोजित हुए भोज में अलग से दी गई थी।


Vishal


Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED