Logo
December 7 2022 02:00 AM

सक्रिय राजनीति में फिर हो सकती है सुनील जाखड़ की वापसी

Posted at: May 16 , 2022 by Dilersamachar 9195

दिलेर समाचार, चंडीगढ़: कांग्रेस को अलविदा कहने वाले प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के पूर्व प्रमुख सुनील जाखड़ भले ही सक्रिय राजनीति से फरवरी माह में तौबा कर ली थी, लेकिन मौजूदा हालात उन्हें एक बार फिर से पंजाब की सक्रिय राजनीति में आने के लिए प्रेरित कर सकते हैं. उन्होंने कांग्रस छोड़ने से पहले अपने संबोधन में कहा था, ‘सोनिया जी पंजाब को बख्श दो’. उनका पंजाब प्रेम उन्हें फिर से नई पारी की ओर ले जा सकता है. सुनील जाखड़ के करीबी सूत्रों का कहना है कि वह अपने भविष्य के राजनीतिक सफर की घोषणा करने से पहले विकल्पों पर विचार कर रहे हैं. समझा जाता है कि वह आने वाले महीनों में पंजाब पर ध्यान केंद्रित करने के लिए उत्सुक हैं.

दि ट्रिब्यून की रिपोर्ट में राजनीतिक विशेषज्ञों के हवाले से कहा गया है कि वर्तमान में पंजाब के राजनीतिक परिवेश को देखते हुए जाखड़ के पास भाजपा और आम आदमी पार्टी के रूप में 2 बड़े विकल्प मौजूद हैं. भाजपा इस समय पंजाब में अपने आप को स्थापित करने की कोशिश कर रही है और उसे एक मजबूत हिंदू चेहरे की तलाश है. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी सुनील जाखड़ के रूप में एक साफ छवि वाले हिंदू चेहरे का अपने खेमे में स्वागत कर सकती है. भगवा पार्टी के लिए एक विश्वसनीय चेहरे के तौर पर सुनील जाखड़ निश्चित रूप से 2024 के संसदीय चुनावों में मदद कर सकते हैं.

दूसरा हिमाचल प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं. हिमाचल की राजनीति में भाजपा, कांग्रेस और नई प्रवेश करने वाली आम आदमी पार्टी के प्रदर्शन का असर पंजाब कांग्रेस में भविष्य के राजनीतिक समीकरणों पर पड़ेगा, जो हाल के विधानसभा चुनावों में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद अपने कैडर को एक साथ रखने के लिए संघर्ष कर रही है. राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि 2024 के संसदीय चुनावों में आम आदमी पार्टी के खिलाफ सत्ता-विरोधी लहर बढ़ने की उम्मीद है, कई नेता एक ऐसे राजनीतिक स्थान की तलाश कर रहे हैं जो विश्वसनीय और ईमानदार नेताओं के लिए विकल्प और मंच प्रदान कर सके.

ये भी पढ़े: माधुरी दीक्षित 'माजा मां' में निभाएंगी समलैंगिक महिला का किरदार!

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED