Logo
September 30 2020 08:30 AM

भीड़ ने की गद्दारी, आतंकी का दिया साथ

Posted at: Nov 29 , 2018 by Dilersamachar 9326

दिलेर समाचार, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ रखा है। नवंबर में अब तक करीब 38 अतंकियों को ढेर किया जा चुका है। इसी कड़ी में बुधवार को कुठीपोरा में पुलिस ने दावा किया कि नवीद जट्ट और रियाज को मार गिराया गया है। मगर, वहां कम से कम दो और आतंकी थे।

एक आतंकी घेराबंदी शुरू होते ही वहां से भाग निकला था, जबकि एक अन्य को आतंकी समर्थक भीड़ ने मुठभेड़ में मलबा बने मकान से निकाल सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया। आतंकी को मलबे से निकालने और सुरक्षित ले जाने का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

बताया जाता है कि कुठीपोरा में सुबह जब आतंकियों की तरफ से काफी देर तक गोलियां नहीं चली। सुरक्षाबलों को लगा कि दो ही आतंकी थे जो मारे गए हैं, तो उन्होंने घेराबंदी को कुछ घटाया। हिंसक भीड़ ने इसका पूरा फायदा उठाया और वह पथराव करती हुई आतंकी ठिकाना बने मकान पर जमा हो गई।

सुरक्षाबलों ने बड़ी मुश्किल से वहां से नवीद जट्ट और उसके एक अन्य साथी का शव निकाला। भीड़ ने मुठभेड़ में नष्ट हुए मकान के विभिन्न हिस्सों की तलाशी शुरू कर दी। इसी दौरान उन्होंने मकान के एक हिस्से में मलबे के नीचे पोजीशन लिए बैठे एक आतंकी को बाहर निकाला।

आतंकी को जिंदा देख वहां कुछ ही दूरी पर खड़े सुरक्षाकर्मी भी हैरान रह गए। जब तक वह उसे मार गिराने या जिंदा पकड़ने की कार्रवाई शुरू करते, भीड़ ने आतंकी के चारों तरफ सुरक्षित घेरा बनाया और जिहादी नारे लगाती हुए उसे किसी सुरक्षित जगह की तरफ ले गई।

हालांकि, पुलिस या सेना ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। मगर, सूत्रों ने बताया कि सुरक्षाबल अगर उस समय पर उसे पकड़ने का प्रयास करते, तो कई आम लोग मारे जा सकते थे। उन्होंने बताया कि जिंदा बच निकले इस आतंकी का नाम अरशद बताया जा रहा है और वह मारवल इलाके का रहने वाला है।

ये भी पढ़े: 31 उपग्रहों के साथ PSLV- C 43 लॉन्च


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED