Logo
May 21 2024 03:44 PM

गुरुग्राम में प्रद्युम्न हत्याकांड के खिलाफ चल रहा विरोध प्रदर्शन हुआ हिंसक..पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Posted at: Sep 10 , 2017 by Dilersamachar 9841

दिलेर समाचार,दिल्ली के पास गुरुग्राम के स्कूल में सात साल के मासूम प्रद्युम्न की हत्या के बाद प्रशासन ने रेयान स्कूल के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है और स्कूल को उस वक्त तक नहीं खोला जाएगा जब तक स्कूल बच्चों की सुरक्षा की गारंटी नहीं देगा। डीएम और डीईओ की एक कमिटी बनाई गई है जो पूरे मामले की जांच करेगी। वहीं मानव संसाधन विकास मंत्रालय की तरफ से भी रेयान इंटरनेशनल स्कूल मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि जल्दी ही न्याय होगा। इसके अलावा दिल्ली एनसीआर के स्कूलों में क्या हो रहा है कि सीबीएसई की तरफ से भी रिपोर्ट मांगी गई है। 
 सीबीआई जांच की मांग
दूसरी तरफ, प्रद्युम्न की हत्या से दूसरे बच्चों के अभिभावक गुस्से में हैं। प्रद्युम्न की हत्या के चौबीस घंटे बाद आज जब स्कूल खुला तो सैकड़ों की तादाद में अभिभावक स्कूल के बाहर जमा हो गए। इन्होंने स्कूल के खिलाफ नारेबाजी की और स्कूल का गेट तोड़कर अंदर घुसने की कोशिश की। वहीं प्रद्युम्न के परिजनों ने पुलिस की जांच पर गंभीर सवाल उठाते हुए सीबीआई जांच की मांग की है। प्रद्युम्न की मां ज्योति ठाकुर ने एक निजी चैनल से बातचीत में कहा कि असली गुनहगार कोई और है जिसे बचाने के लिए कंडक्टर को मोहरा बनाया जा रहा है।

उन्होंने संदेह जताया है कि हो सकता है कि उनके बच्चे ने स्कूल के टॉइलट में स्कूल से जुड़े कुछ लोगों को कुछ गलत करते हुए देख लिया हो, जिसके बाद सच्चाई को दबाने के लिए उसकी हत्या कर दी गई हो। बच्चे की मां ने पूरे मामले की सीबीआई से जांच की मांग करते हुए कहा कि उन्हें पुलिस की जांच पर भरोसा नहीं है। उन्होंने सवाल किया कि जब उनका बच्चा बस से स्कूल जाता ही नहीं था तो बस का कंडक्टर उसे क्यों मारेगा।

हत्या पर उठे सवाल
-बच्चों के टॉयलेट में बस कंडक्टर कैसे चला गया?
-कंडक्टर के पास चाकू कहां से आया?
-क्या कंडक्टर पहले से ही हत्या का प्लान बनाकर आया था?
-टॉयलेट के बाहर सफाई कर्मचारी क्यों नहीं था?
-क्या इस हत्या में कंडक्टर के साथ कोई और भी शामिल था?

बता दें कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के बच्चे प्रद्युम्न का शव टॉयलेट में मिला था। इस मामले में बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया गया है। करीब दस घंटे की छानबीन और स्कूल स्टाफ से पूछताछ के बाद पुलिस ने स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया है। पुलिस कहती है इसी ने मासूम प्रद्युम्न का कत्ल किया है। इसका नाम अशोक है। अशोक गुरूग्राम के रेयान स्कूल में पिछले आठ महीने से काम कर रहा है।

ये भी पढ़े: लालबाग के राजा साथ नही ले गये अपना ख़जाना सोने की मूर्तियां, बिस्किट, चांदी के मोदक से भरी ट्रस्ट की तिजोरियां

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED