Logo
December 9 2019 11:06 AM

सतना जिले में आग में कूदकर महिला ने की खुदकुशी

Posted at: Jul 24 , 2019 by Dilersamachar 8758

दिलेर समाचार, भोपाल। मध्यप्रदेश के सतना जिले के नागोद क्षेत्र में गिन्जारा गांव में जमीन के विवाद को लेकर एक अनुसूचित जाति की 45 वर्षीय महिला राधा अहिरवार ने कथित तौर पर आग लगाकर खुदकुशी कर ली. राधा को अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां उन्होंने दम तोड़ दिया.

     सतना जिले के पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने कहा ‘‘मृतक के बच्चों के बयान पर राधा अहिरवार को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में तीन लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 के तहत मामला दर्ज किया गया है. इसके अलावा, हमने इन तीनों आरोपियों के खिलाफ एससी/एसटी (अत्याचारों की रोकथाम) एक्ट के तहत भी मामला दर्ज किया है.''

राधा अहिरवार और आरोपियों की जमीन को लेकर कुछ विवाद चल रहा था. पटवारी दीपिका बागरी द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार सोमवार शाम को नागौद पुलिस थाने इलाके में एक सरकारी स्कूल के नजदीक इस जमीन की माप करने के लिए वह मौके पर आई थी, ताकि मामला सुलझाया जा सके. इसी बीच दोनों पक्षों में तीखी तकरार होने लगी और आरोपियों ने राधा के साथ हाथापाई की और अपशब्द कहे.

इकबाल ने बताया   “अचानक पटवारी की मौजूदगी में महिला के साथ दोनों पक्षों के बीच झगड़ा हुआ और तीनों लोगों ने उसके साथ हाथापाई की, जिससे नाराज होकर वह लगभग 50 मीटर दूर अपने घर लौट गई और आत्मदाह कर लिया. मृतक महिला के घर के पास, हमने खाली केरोसिन की बोतल भी जब्त की है.

अहम बात यह है कि राधा और दूसरे पक्ष के तीन पुरुषों के बीच शोर-शराबे को देखते हुए, पटवारी ने राज्य पुलिस की डायल 100 को इस मामले की सूचना दी थी. लेकिन, नागोद पुलिस स्टेशन की गांव से दूरी सिर्फ 4 किलोमीटर है बावजूद इसके पुलिस वालों को मौका-ए-वारदात पर पहुंचने में 16 घंटे लगे, वो भी तब जब सतना एसपी खुद वहां पहुंचे.

इस मामले में विंध्य से कांग्रेस के कद्दावर नेता और कैबिनेट मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है ये बहुत ही निंदनीय है, इस तरह की घटना को अंजाम देने वाले चाहे किसी भी जाति बिरादरी के हों ऐसे अपराधियों को हमारी सरकार कतई नहीं छोड़ेगी सख्त से सख्त कार्रवाई कर रही है, अपराधियों को पकड़ लिया गया है. इस तरह के घटनाक्रम समाज को कलंकित करते हैं. पहले भी इस तरह की घटना होती थी, समाज में अच्छे लोग भी हैं, असमाजिक तत्व भी उनके अंदर डर पैदा करने के लिए हमारी सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है.

 वहीं बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा ये जो घटनाएं हो रही हैं, प्रदेश सरकार जिस तरह ट्रांसफर कर रही है, थानों की बोली लग रही है स्वाभाविक रूप से पुलिस का ध्यान अपराध को रोकने में है ही नहीं, पुलिस का भय प्रदेश से समाप्त हो गया है सब लोग वसूली में लग जाते हैं. मैंने इतना निरीह गृहमंत्री नहीं देखा.

ये भी पढ़े: उत्तर प्रदेश: मथुरा जिले में सिपाही पर 6 साल के बच्चे से दुष्कर्म का आरोप


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED