Logo
February 7 2023 08:35 PM

मसूड़ों के बुरे हाल को फिट बना देगा ये आसान तरीका

Posted at: Mar 4 , 2018 by Dilersamachar 9814

 नीलिमा द्विवेदी

दिलेर समाचार, सभी को अपने जीवन में कभी न कभी मसूड़ों में सड़न की शिकाय-जरूर होती है। अधिकतर समस्याएं नियमि-व अच्छी तरह मुंह की सफाई नहीं करने से होती हैं किंतु मसूड़ों में सड़न के पीछे और भी कारण संभावि-होते हैं।

कारण:-

मसूड़ों में सड़न का मुख्य कारण मुंह की अर्थात् दांतों व मसूड़ों की ठीक से साफ-सफाई नहीं करना है। वैसे यह मसूड़ों के क्षतिग्रस्-हो जाने, महिला के गर्भवती होने, मधुमेह, तनाव, कुपोषण, दवाओं का दुष्प्रभाव, खुरदरे या असमान दांतों आदि के कारण भी होती है।

लक्षण:- मसूड़ों में सूजन एवं लालपन आ जाता है। ब्रश करने पर खून निकलता है। मसूड़ों को स्पर्श करने या दबाने से दर्द होता है। मुंह इससे बदबूदार बन जाता है। यह वंशानुग-कारणों से भी होता है। यह समस्या किशोरावस्था में ही हो जाती है।

निदान:-

-   मुंह की नियमि-दो बार ठीक से साफ-सफाई करें।

-   दंतरोग विशेषज्ञ से नियमि-जांच कराएं।

-   धूम्रपान, पान, गुटका, तंबाकू, गुड़ाखू त्याग दें।

-   मीठी चीज कम खाएं। ज्यादा देर तक भूखे न रहें।

-   ताजा पौष्टिक आहार लें। भोजन चबा-चबाकर करें।

-   अंकुरि-अनाज, सलाद व फल खाएं।

-   भोजन व नाश्ते के बाद मुंह धोएं व कुल्ला करें।

-   टूथपेस्ट उपयुक्-हों। उसे समय-समय पर बदलें।

-   टूथब्रश के दांते नरम हांे और उसे हर दो माह में बदल दें।

-   दूसरे का टूथ ब्रश उपयोग ना करें।

-   चाय, काफी मीठा पेेय, टाफी, चाकलेट खाने के बाद मुंह साफ करें।

-   अनावश्यक तनाव से बचें।

-   बीच-बीच में घूंट-घूंट पानी पिएं।

-   हर छह माह में दांतों की जांच करा कर सफाई कराएं।

-   मधुमेह को नियंत्रि-रखें।

-   मदिरा या किसी नशे का सेवन न करें।

ये भी पढ़े: इस-बड़ी बीमारी की चपेट में लगातार आ रही है भारतीय महिलाएं

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED