Logo
August 9 2020 10:34 AM

आपकी फूटी किस्मत को भी मजबूत बना देगा ये धासू तरीका

Posted at: May 20 , 2018 by Dilersamachar 5495

दिलेर समाचार, किस्‍मत का साथ होना बहुत जरूरी है क्‍योंकि अगर आपको अपनी जिंदगी में इसका साथ नहीं मिलता तो आप बर्बाद भी हो सकते हैं।

हर इंसान सक्‍सेस के पीछे भागता है लेकिन आपको बता दें कि सक्‍सेस पाने के लिए मेहनत के साथ-साथ किस्‍मत का साथ देना भी बहुत जरूरी होता है।

ज्‍योतिषशास्‍त्र की मदद से आप अपने भाग्‍य को बलवान कर सकते हैं। जब आपका भाग्‍य बलवान होगा तो आपको अपनी मेहनत के अनुकूल ही परिणाम मिलने लगेंगें। अगर आपको भी लगता है कि बहुत मेहनत करने के बाद भी आपको सफलता नहीं मिल पा रही है तो इसका कारण भाग्‍य का साथ ना देना हो सकता है। कुछ ज्‍योतिषीय उपायों की मदद से आप इस समस्‍या का निवारण कर सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं भाग्‍य का साथ पाने के ज्‍योतिषीय उपाय :-

पक्षियों को दाना डालना

 

रोज़ सुबह पक्षियों को दाना डालने से राहू और केतु शांत होते हैं और इनका अशुभ प्रभाव दूर होता है। इनके द्वारा उत्‍पन्‍न की गई भाग्‍य की बाधाएं भी दूर हो जाती हैं। इसके अलावा रोज़ देवदर्शन यानि मंदिर जरूर जाएं। इस उपाय से भाग्‍य को बल मिलता है।

मछलियों को खाना

 

अगर आपके घर के आसपास कहीं तालाब या झील है तो वहां जाकर नियमित मछलियों को आटे से बनी गोलियां खिलाएं। ज्‍योतिषशास्‍त्र में इसे शनि का उपाय बताया गया है। इससे शनि के अशुभ प्रभाव के कारण भाग्‍य में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं।

बड़ों का करें आदर

 

ज्‍योतिषशास्‍त्र में सूर्य को पिता और चंद्रमा को माता का कारक बताया गया है। माता-पिता का अनादर करने से ये दोनों ग्रह कमजोर होते हैं। सूर्य और चंद्रमा के प्रतिकूल होने पर किसी भी ग्रह का शुभ फल नहीं मिल पाता है। इस वजह से भाग्‍य का साथ भी नहीं मिल पाता है। किस्‍मत का साथ पाना चाहते हैं तो अपने माता-पिता का आदर करें।

गाय को दें पहली रोटी

 

रोज़ सुबह रोटी बनाते समय पहली रोटी हमेशा गाय के लिए निकालकर रखें। गाय को रोटी खिलाने से पिगृ गण प्रसन्‍न होते हैं। मान्‍यता है कि ऐसा करने से धन की परेशानी दूर होती है और भाग्‍य का साथ मिलता है।

कुत्ते की रोटी

 

शनि, राहू और केतु तीनों ग्रहों के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए काले कुत्ते को तेल लगी रोटी खिलाएं। इन अशुभ ग्रहों को शांत करने पर आपको किस्‍मत का पूरा साथ मिलेगा।

अगर आपको मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिल पा रही है और आप समझ नहीं पा रहे हैं कि इसका क्‍या कारण हैं तो आपको बता दें कि आपके प्रयासों की विफलता और आपकी असफलता का कारण कुछ विशेष ग्रह हो सकते हैं। ग्रह दोष के कारण जातक को अपने भाग्‍य का साथ तक नहीं मिल पाता है और अगर आप अपनी किस्‍मत का साथ पाना चाहते हैं तो उपरोक्‍त बताए गए उपाय जरूर करें।

ये उपाय ना केवल आपको भाग्‍य का साथ पाने में मदद करेंगें बल्कि आपके जीवन के अन्‍य कष्‍टों को भी दूर करेंगें। भाग्‍य का साथ पाने वाले ये उपाय बेहद सरल भी हैं और इन्‍हें बड़ी आसानी से आप कर सकते हैं। याद रखिए, भाग्‍य के बिना मेहनत भी बर्बाद हो जाती है।

 

इमाम शेख उसान अहमद ने कहा है कि अजान दिन में पांच बार होती है और वॉट्सऐप के जरिए मैसेज भेजना साउंड पॉल्युशन कंट्रोल कर सकता है. लेकिन फिर अजान के लिए इमाम को हर महीने सैलरी मिलना भी बंद हो जाएगी. क्योंकि सारे काम तो मैसेज के जरिए हो जाएंगे. सरकार को एेसा कदम नहीं उठाना चाहिए.

हम पहली से ही इतने ज्यादा पॉल्यूटेड वातावरण में रह रहे हैं की हमारा सांस और ध्वनि सुनना सब सामान्य स्तर से अधिक है. यह समस्या भारत में ज्यादा गंभीर है, भारत वैसे तो एक हिंदू देश है लेकिन यहाँ मुसलमानों का भी अपनी कम्यूनिटी के जरिए कही ना कही राज चलाता ही रहता है. जिस कारण इसे हमेशा धर्म और जाति का मुद्दा बना दिया जाता है. जबकि अगर सरकार कोई कदम लेगी भी तो वह सभी के पक्ष में बराबर होगी. जैसे की घाना की सरकार है. सभी चर्च और मंदिरों में से घंटियों की आवाजें भी बंद कराना सरकार का काम होगा.

देखा जाए तो घाना की सरकार ने जो सुझाव दिया है वह मस्जिदों से लाउडस्पीकर से होने वाले नॉइस पॉल्यूशन को कम करने में मददगार साबित हो सकता है.

ये भी पढ़े: इंसानों की सेवा करने में सबसे आगे है ये धर्म


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED