Logo
June 26 2022 05:20 PM

2 साल में 50 बेरोजगारों को ठग कमाए 20 करोड़; जानें पूरी कहानी

Posted at: May 25 , 2022 by Dilersamachar 9103

दिलेर समाचार, नई दिल्ली: दिल्ली में एक ऐसे कॉल सेंटर का भंडाफोड़ हुआ है, जो बेरोजगारों को दो सालों से ठगता आ रहा था. नोएडा पुलिस ने नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों यानी बेरोजगारों को कथित रूप से ठगने के आरोप में दिल्ली में एक कॉल सेंटर के 10 कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है. अधिकारियों का मानना है कि गिरोह ने दो सालों से अब तक लगभग 50 लोगों को ठगा है और इन दो सालों में ठगी करके 20 करोड़ रुपये से अधिक जमा किए हैं.

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान पवन कुमार, जितेश कुमार, राम किशन, दीपेंद्र कुमार, प्रदीप कुमार सिंह, अरविंद कुमार यादव, तेजपाल सिंह, रोहित कुमार, सुभाष चंद्रा और राम कृष्ण सिंह के रूप में हुई है. अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (नोएडा) रणविजय सिंह ने कहा कि एक व्यक्ति द्वारा शिकायत की गई थी कि उसे नौकरी के झूठे वादे पर धोखा दिया गया था, जिसके बाद पुलिस ने जांच कर इस रैकेट का खुलासा किया.

सिंह ने कहा कि नोएडा सेक्टर 77 के निवासी ने 20 लाख रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए पुलिस से संपर्क किया था. उन्होंने कहा कि पीड़ित ने सेक्टर 113 पुलिस स्टेशन को सूचित किया था कि वह एक प्रमुख वेबसाइट पर नौकरी की तलाश कर रहा था, जिसके बाद उसे किसी ऐसे व्यक्ति का फोन आया, जिसने अपनी सिंगापुर स्थित एक निर्माण फर्म के प्रतिनिधि के रूप में पहचान बताई.

अधिकारी ने आगे कहा, ‘प्रतिनिधि ने उसे बताया कि उसकी प्रोफ़ाइल को शॉर्टलिस्ट किया गया था. फिर कॉल करने वाले ने उसे दो से तीन सप्ताह की अवधि में प्रोसेसिंग फी और अन्य दस्तावेज़ कामों के लिए कुछ पैसे का भुगतान करने के लिए मना लिया. पीड़ित को जब तक एहसास हुआ कि उसके साथ ठगी हो रही है, तब तक उसने 20 लाख रुपये का भुगतान कर दिया था. जब मामले की जांच की गई तो पुलिस ने पाया कि दिल्ली के मयूर विहार फेज I में एक कॉल सेंटर से एक बड़ा नेटवर्क चल रहा था.’

ये भी पढ़े: हरे निशान के साथ खुला बाजार, सेंसेक्स में 463 अंकों की तेजी, निफ्टी भी 16,300 के ऊपर

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED