Logo
May 9 2021 10:47 AM

आज होगा गुरमीत राम रहीम की सजा का फैसला

Posted at: Aug 28 , 2017 by Dilersamachar 9334

दिलेर समाचार, चंडीगढ़ । आज गुरमीत राम रहीम की सजा का होगा फैसला साध्वी यौन शोषण मामले में दोषी करार दिए गए सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई की विशेष अदालत 28 अगस्त को रोहतक की सुनारिया जिला जेल में ही सजा सुनाएगी। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने हिंसा की घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सीबीआई की पंचकूला अदालत को एक दिन के लिए सुनारिया जेल स्थानांतरित करने के आदेश दिए हैं। जिसके तहत अब जेल में ही अस्थायी अदालत बनाई गई है और यहीं डेरा प्रमुख को सजा के एलान के समय पेश किया जाएगा। सीबीआई के विशेष जज जगदीप सिंह 28 अगस्त को हेलिकॉप्टर से सुनारिया जेल पहुंचेंगे तथा वहीं डेरा प्रमुख को उक्त मामले में सजा सुनाएंगे। इससे पहले इसी अदालत ने डेरा प्रमुख को यौन शोषण मामले में गत 25 अगस्त को दोषी करार दिया था। इसके तत्काल बाद ही पुलिस ने डेरा प्रमुख को हिरासत में ले लिया था और हेलिकॉप्टर में रोहतक लेकर गई थी। उधर डेरा प्रमुख को सोमवार को सजा का ऐलान होने के दृष्टिगत जिला प्रशासन ने डेरा समर्थकों के आने की संभावनाओं के रोकने के लिए सिरसा-रोहतक और हिसार-रोहतक राजमार्गों को सील कर दिया है।

अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती बढ़ाई 
 इसके अलावा इन पर पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती और नाके बढ़ा दिए गए हैं। रोहतक जिला प्रशासन ने पूरे जिले में निषेधाज्ञा लागू कर दी है।  जिसके तहत पांच से अधिक लोगों के एकत्रित होने, सभा या रैली करने तथा  लाठी, डंडा, तेज धारदार हथियार और आग्नेय अस्त्र लेकर चलने पर पाबंदी रहेगी।  जिला उपायुक्त अतुल कुमार का कहना है कि रोहतक में स्थिति पूरी तरह  नियंत्रण में है तथा किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षा के पूरे बंदोबस्त किए गए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले हर व्यक्ति की जगह-जगह पर जांच की जा रही है और इस  दौरान अगर कोई व्यक्ति अपनी पहचान और रोहतक आने का उद्देश्य स्पष्ट नहीं कर पाया तो उसे हिरासत में ले लिया जाएगा।  

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने अब तक सात लोगों को हिरासत में लिया है। जिले में अनेक जगहों पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं। जिले में अर्द्धसैनिक बलों की दस टुकड़ियां तैनात की गई हैं इनमें से छह जिले की सीमा पर और शेष जिले के अंदरूनी क्षेत्रों में तैनात हैं।  राज्य पुलिस के आठ पुलिस उपाधीक्षक भी जिले के विभिन्न क्षेत्रों में सुरक्षा की कमान संभाले हुए हैं। उन्होंने लोगों से अफवाह अथवा  किसी बहकावे में भी न आने  की अपील की है।  उपायुक्त के अनुसार जिले में सेना के 18 कॉलम बुलाये गए हैं जो संवेदनशील क्षेत्रों में फ्लैग मार्च करेंगे।

ये भी पढ़े: 45वें मुख्य दीपक मिश्रा न्यायाधीश के रूप में शपथ


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED