Logo
August 16 2022 12:46 PM

देखता रहा प्रधान और पंचायत के सामने चला दी गोली, ये था पूरा मामला

Posted at: Oct 23 , 2017 by Dilersamachar 9557

दिलेर समाचार, जमीन विवाद को सुलझाने के लिए पंचायत बुलाई गई। लेकिन प्रधान के सामने ही दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी और गोली चल गई। जिसमें एक की मौत हो गई और पांच घायल हो गए। 

घटना लखीमपुर खीरी जिले के कोतवाली धौरहरा के गांव गुलरीपुरवा मजरा नयागांव में की है जहां सात डिसमिल जमीन को लेकर हो रही पंचायत के दौरान दोनों पक्षों के बीच मारपीट और फायरिंग हुई जिसमें एक की मौत हो गई पांच घायल हो गए।

दिनदहाड़े हुई वारदात से गांव में सनसनी फैल गई है। घटना के दौरान ग्राम प्रधान सहित मौजूद लोग तमाशाबीन बने रहे। ग्राम गुलरीपुरवा मजरा नयागांव में आबादी की गाटा संख्या 13 और 14 की जमीन क्रमश: 0.24 हेक्टेयर और 0.32 हेक्टेयर गांव के सियाराम आदि के नाम है।

आरोप है कि गांव के ही कमलाकांत समेत कई लोगों ने इस जमीन पर जबरन कब्जा कर रखा है। कब्जा वापस पाने को चार महीने से सियाराम और उसके भाई तहसील, कोतवाली के अलावा विधायक के दरबार तक चक्कर लगा रहे थे, लेकिन किसी ने फरियाद नहीं सुनी।

रविवार को लेखपाल कपिल वर्मा पैमाइश के लिए गांव गए भी तो वह विवाद की गंभीरता को देखकर वहां से चले गए। रविवार को ही सियाराम आदि ने इस जमीन पर अपने खेत का पुआल लगाने की ठान ली। ट्रैक्टर ट्रॉली मे भरकर  पुआल आ भी गया था। इसी दौरान विवाद होने लगा तो लोगों ने सुलह समझौते की कोशिश की।

गांव के कुछ खास लोगों और ग्राम प्रधान को बुलाकर विवादित जगह पर ही पंचायत बैठाई गई, लेकिन पंचायत में विवाद बढ़ गया। सियाराम पक्ष का आरोप है कि कमलाकांत पक्ष की कुछ महिलाओं ने सियाराम के भाई (40) सोनेलाल को पकड़कर पीटना शुरू कर दिया।



आरोप है कि इसी दौरान कमलाकांत ने तमंचे से सोनेलाल के सीने में गोली मार दी। इससे वहां भगदड़ मच गई। मारपीट में सियाराम का बेटा नीरज, भाई सर्वेश और भतीजा पंकज दूसरे पक्ष के रामदुलारे और कौशल भी घायल हो गए।

सभी को धौरहरा सीएचसी लाया गया, जहां डॉक्टरों ने सोनेलाल को मृत घोषित कर दिया। घायल पंकज ने बताया कि विपक्षियों ने महिलाओं को ढाल बनाया और पंचायत के बहाने उसके चाचा की हत्या कर दी। मृतक के भाई सर्वेश की ओर से कमलाकांत, पटवारीलाल, धीरज, ओमकार, रामस्वरूप, संतोष और कौशल के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है

ये भी पढ़े: दिवाली के बाद बड़ा झटका, मुश्किल हुई भारतीय रेल यात्रा, सफर हुआ और मुसिबत भरा

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

Images for fb1
fb1

STAY CONNECTED