Logo
April 26 2019 04:10 PM

आपको भी आएंगे दबाकर पाद, अपनाए ये असरदार घरेलु उपचार

Posted at: Jan 31 , 2019 by Dilersamachar 6340

दिलेर समाचार, कई बार ज्यादा खाना खा लेने के कारण हम ज्यादा खान खा लेते है और उसके बाद हमारे पेट में दर्द होना शुरू हो जाता है और हम सोचते है की किसी भी प्रकार पाद आ जाये तो थोडा आराम मिल जाये, दरअसल जब हम ज्यादा खाना खा लेते है तो हमारे पेट में गैस बनने लगती है ऐसा कई बार ज्यादा तला और मसालेदार खाना खाने से भी हो सकता है, जिसके बाद हमारा पेट फूलने लगता है और ऐसा लगता है की पाद आ जाये और सारी गैस बहार निकल जाये तो पेट फूलना बंद हो जाये, पर अक्सर हम कितना भी प्रयास करे हमे पाद नहीं आता और हमारी तकलीफ और भी ज्यादा बड़ने लगती है, फिर हम कोई भी दवा का सहारा लेते है और सोचते है की इससे थोडा आराम मिल जायेगा पर ऐसा बिलकूल भी नहीं होता और अक्सर कुछ भी दवा खाने से हमारा पेट भी ख़राब हो जाता है।

आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलु नुस्के बताएँगे जिसकी मदद से आप पाद को ला कर अपने पेट की समस्या को दूर कर सकते है, बैज्ञानिक शोध से पता चला है की पाद मारना हमारी सेहत के लिए बहूत ही अच्छा होता है, पाद मारने से हमारे शरीर से सारी विषैली गैस निकल जाती है और हमारे पेट को भी आराम मिलता है।

रोजाना सुबह के समय खाली पेट एक कप गौ मूत्र पिने से पेट में गैस बनना बंद हो जाती है, इससे पाचन शक्ति तेज होती है, शरीर की शुद्धि हो जाती है इसीलिए यह घरेलु उपाय गैस का रामबाण इलाज करता हैं।

अगर आपको गैस का रोग ज्यादा होता रहता है तो दिन में दो तीन बार नीबू की चाय पीना शुरू करे, (Paad Aane Ke Upay, Paad Kaise Laye) इसके अलावा अगर सुबह खाली पेट नीबू पानी पिया जाए तो यह घरेलु उपाय भी ज्यादा गैस बनने से रोकता है।

-रोजाना खाना खाने के बाद याद से 1 लौंग व इलाइची जरूर खाये, यह उपाय एसिडिटी व गैस के रोग में बहुत फायदा करता है. पेट में गैस के इलाज में अत्यंत लाभ करता हैं।

-भोजन करने के बाद 10-20 ग्राम गूढ़ खाने से गैस नहीं बनती हैं, यह बहुत ही सरल उपाय है और हमने इस नुस्खे को कई हजारों लोगों पर आजमाया है. बस शर्त यह है की आप नियमित रूप से इसका सेवन करे और भोजन करे के तुरंत बाद ही गूढ़ खाये, यह एक असरदार गैस के घरेलु नुस्खे में से एक हैं।

-सब्जी, सलाद आदि में काला जीरा व सामान्य जीरा मिलाकर बनाये. खाने की हर चीज में अजवाइन को मिलाये, इस छोटे से प्रयोग से गैस, एसिडिटी, कब्ज आदि रोगों से छुटकारा मिलता है व पाचनशक्ति बढ़ती हैं।

-2 लहसनु की कली के बारीक़ टुकड़े कर ले व इसमें नीबू रस व काला नमक डाल दें. आपस में अच्छे से मिला लें और नियमित रूप से रोजाना सुबह के वक्त पेट खाली होने पर हलके गर्म पानी के साथ इनको खा जाए. यह आयुर्वेदिक उपाय पेट के कई बम्भीर रोगों से बचाता हैं व गैस की समस्या का समाधान करता है।

-काला नमक को हलके गर्म पानी में मिलाकर पिने से पेट के सभी रोगों में आराम मिलता है, गैस, एसिडिटी, अजीर्ण आदि सभी में लाभ होता हैं।

ये भी पढ़े: आज सावधान रहे तुला राशि के लोग, आ सकता है आप पर सकंट


Tags:

Related Articles

Popular Posts

Photo Gallery

STAY CONNECTED